Space for advertisement

गेहूं किसानों के लिए सरकार की बड़ी योजना, केन्द्र 1820 से बढ़ाकर 3900 किए गए

 गेहूं किसानों के लिए सरकार की बड़ी योजना, केन्द्र 1820 से बढ़ाकर 3900 किए गए

पंजाब के खाद्य, सिविल सप्लाई और उपभोक्ता मामले विभाग के कैबिनेट मंत्री भारत भूषण आशु ने किसानों को भरोसा दिया है कि उनकी फसल का एक -एक दाना खरीदा जायेगा। किसानों को घबराने की जरूरत नहीं, क्योंकि खरीद कामों की वह निजी तौर पर निगरानी रख रहे हैं। उन्होंने आज लोकसभा मेंबर डॉ. अमर सिंह, विधायक स. गुरकीरत सिंह कोटली, खाद्य सिविल सप्लाई और उपभोक्ता मामले विभाग की डायरेक्टर अनिंदिता मित्रा, पंजाब मंडी बोर्ड के उप-चेयरमैन विजय कालरा समेत खन्ना की दाना मंडी में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

और केन्द्र बढ़ा सकते हैं

श्री आशु ने जानकारी देते हुए बताया कि पंजाब सरकार द्वारा किसानों की सुविधा के लिए और खरीद कामों को बिना किसी परेशनी के पूरा करने के लिए राज्य में खरीद केन्द्रों की संख्या 1820 से बढ़ाकर 3900 कर दी गई है। इसके अलावा डिप्टी कमिश्नरों को जरूरत के मुताबिक और खरीद केंद्र निर्धारित करने का अधिकार भी दिया गया है। मौजूदा स्थिति के चलते कैप्टन अमरिन्दर सिंह के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार द्वारा खरीद कामों को सुचारू तरीके से पूरा करने के लिए सभी पुख्ता प्रबंध किये हुए हैं। भारतीय खाद्य निगम (एफ.सी.आई.) समेत सभी खरीद एजेंसियां 1925 रुपए प्रति क्विंटल के हिसाब से गेहूं की खरीद करेंगी।

135 लाख मीट्रिक टन गेहूं की आमद होने की आशा

उन्होंने बताया कि कृषि और किसान कल्याण विभाग, पंजाब द्वारा इस बार राज्य की मंडियों में 135 लाख मीट्रिक टन गेहूं की आमद होने की संभावना बतायी गई है। जिसको ध्यान में रखते हुए अलग -अलग खरीद एजेंसियों के लिए खरीद का लक्ष्य निर्धारित कर दिया गया है, जिसके अनुसार पनग्रेन 26 प्रतिशत (35.10), मार्कफैड्ड 23.50 प्रतिशत (31.72), पनसप 21.50 प्रतिशत (29.02), वेयरहाऊस 14 प्रतिशत (18.90) और भारतीय खाद्य निगम 15 प्रतिशत (20.25) की खरीद करेगा।

शाम छह बजे तक खरीद होगी

श्री आशु ने कहा कि किसानों को योजनाबद्ध तरीके से मंडियों में लाने के लिए इस बार टोकन व्यवस्था की शुरुआत की गई है। इसके अलावा इस बार मंडियों में सामाजिक दूरी की हिदायतों को लागू कराने के लिए हर संभव कदम उठाया जा रहा है। इसलिए 30 गुना 30 फूट के 2 फीट की दूरी पर डिब्बे बनाए गए हैं। गेहूं इन डिब्बों में ही उतारा जा सकता है। इसके अलावा गेहूं की बोली का समय भी प्रातकाल 10 बजे से शाम 6 बजे तक है। उन्होंने बताया की कोविड 19 को फैलने से रोकने के लिए ट्रांसपोर्टेशन के ठेकेदार द्वारा मजदूरों को मास्क मुहैया करवाए जा रहे हैं। खरीद एजेंसियों और मंडी बोर्ड अधिकारियों द्वारा भी मजदूरों का अच्छा स्वास्थ्य बनाए रखने के लिए यत्न किये जा रहे हैं। आढ़तियों द्वारा किसानों और मजदूरों को सेनेटाइजर और मास्क आदि मुहैया करवाए जा रहे हैं। सभी खरीद केन्द्रों में जरूरत के मुताबिक वारदाना मुहैया करवा दिया गया है। श्री आशु ने यह भी भरोसा दिलाया की सभी किसानों को उनकी फसल की अदायगी 48 घंटों में ही करवायी जायेगी और सरकारी खरीद कार्य 15 जून, 2020 तक जारी रहेंगे।

मुल्लांपुर दाना मंडी का भी दौरा

इसके बाद श्री भारत भूषण आशु ने मुल्लांपुर स्थित दाना मंडी का भी दौरा किया। इस मौके पर उनके साथ लोकसभा मेंबर स. रवनीत सिंह बिट्टू, सीनियर कांग्रेसी नेता कैप्टन सन्दीप सिंह संधु और अन्य नेता भी थे। इस मौके पर श्री आशु ने आढ़तियों और किसानों से बातचीत करते हुए भरोसा दिया की उनकी फसल का एक -एक दाना हर हाल में खरीदा जायेगा।
loading...

Post a Comment

0 Comments

Adblock Detected

Like this blog? Keep us running by whitelisting this blog in your ad blocker

Thank you

×
Get the latest article updates from this site via email for free!