Space for advertisement

IPL में कितना पैसा कमाती हैं चीयरलीडर्स ? कैसी करती है कमाई, जानिए इनकी भीतरी दुनिया


आईपीएल का खुमार क्रिकेट फैंस के सिर चढ़कर बोलता है। हर साल होने वाले आईपीएल का क्रिकेट फैंस बेसब्री से इंतजार करते हैं। हमारे देश में आईपीएल की दीवानगी का आलम यह है कि जो महिलाएं और बच्चे आम दिनों में अपना फेवरेट सीरियल देखने के लिए किसी को टीवी का रिमोट नहीं देते हैं, वे भी शाम को मैच शुरू होते ही चैनल बदलकर पूरे परिवार के साथ मैच का आनंद लेने बैठ जाते हैं। सब अपनी अपनी पसंदीदा टीम को सपोर्ट करते नजर आते हैं.

जब आईपीएल की बात हो तो चीयरलीडर्स का ख्याल जरूर दिमाग में आता है और आए भी क्यों ना, चीयरलीडर्स ही तो है जो अपने बेहतरीन डांस से आईपीएल में चार चांद लगा देती हैं। जब भी कोई चौका या छक्का लगता हैं तो ये चीयरलीडर्स मैदान में मौजूद दर्शकों का खूब मनोरंजन करती हैं। लेकिन आखिर ये चीयरलीडर्स कौन होती हैं ? ये कौन से देश से आती हैं ? और इन्हें इस काम के लिए कितने पैसे मिलते हैं ? ऐसे तमाम सवाल है जो कभी ना कभी आपके दिमाग में भी आए होंगे। तो आइए इन सवालों के जवाब भी जान लेते हैं.

आईपीएल में कितना पैसा कमाती हैं चीयरलीडर्स :

आपने देखा होगा कि आईपीएल की हर टीम के पास अलग-अलग चीयरलीडर्स होती हैं जो अपनी टीम को चीयर करतीं हैं। अगर इनकी कमाई की बात करें तो यह कोई फिक्स नहीं है। प्रत्येक टीम की चीयरलीडर्स को प्रति मैच के हिसाब से अलग अलग पैसे मिलते हैं, किसी को ज्यादा तो किसी को थोड़े बहुत कम। हम एक अनुमान के तहत बता रहे हैं कि कौन सी टीम अपनी चीयरलीडर्स को कितने पैसे देती हैं.

कोलकाता नाइट राइडर्स : आईपीएल में कोलकाता नाइट राइडर्स की चीयरलीडर्स सबसे ज्यादा कमाई करती हैं क्योंकि बाकी सभी टीमों के मुकाबले KKR की चीयरलीडर्स को ज्यादा पैसे मिलते हैं। दरअसल, ये चीयरलीडर्स एक मैच में परफोर्मेंस के 12000 से लेकर 20000 रुपए कमा लेती हैं। इसके अलावा मैच जीतने पर बोनस अलग से दिया है।

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु : RCB की चीयरलीडर्स को हर मैच के लगभग 10 हजार रुपए मिलते हैं। कमाई के मामले में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु की चीयरलीडर्स KKR के बाद दूसरे नंबर पर हैं। इनको भी मैच जीतने पर बोनस के तौर पर 3 हजार रुपए मिलते हैं।

मुंबई इंडियंस : नीता अंबानी की टीम को चीयर करने वाली चीयरलीडर्स भी अच्छा खासा कमाती हैं। पिछले सीजन में इनको एक मैच के 10-12 हजार रुपए मिलते थे।

जबकि बात करें बाकी बची आईपीएल टीमों जैसे राजस्थान रॉयल्स, दिल्ली कैपिटल, सनराइजर्स हैदराबाद तथा किंग्स इलेवन पंजाब की तो इनको भी लगभग इतने ही पैसे मिलते हैं और बॉनस तो सभी टीमों की चीयरलीडर्स को मिलता ही है।

चीयरलीडर्स का काम इतना भी आसान नहीं :

आपको आईपीएल में इन चीयरलीडर्स को थिरकते हुए देखकर अच्छा तो बहुत लगता होगा और आप सोचते होंगे कि इन्हें सिर्फ डांस ही करना होता है इसमें कौनसी बड़ी बात है। लेकिन आपको बता दें कि यह जॉब इतनी भी आसान नहीं है। मैच के दौरान चेहरे पर हमेशा मुस्कान रखने वाली ये चीयरलीडर्स बहुत मेहनत करती हैं इनको हर रोज ट्रेनिंग करके अपने शरीर को लचीला बनाना पड़ता हैं और जितनी मेहनत मैदान पर एक क्रिकेट खिलाड़ी करता है उसनी ही मेहनत ये चीयरलीडर्स भी करती हैं।

चीयरलीडिंग करते समय कैसा महसूस करती हैं :

सिर्फ आईपीएल ही नहीं ये चीयरलीडर्स दूसरे देशों के बाकी खेलों में भी चीयर करती हैं। एक चीयरलीडर्स ने अपने इंटरव्यू में बताया था कि उनको भारत में आईपीएल मैचों में चीयर करना बहुत अच्छा लगता हैं। यहां पर दर्शकों से खचाखच भरे स्टेडियमों में उन्हें बिल्कुल सेलिब्रिटी जैसी फील आती है, कई लोग तो ऑटोग्राफ मांगने भी आते हैं और साथ में सेल्फी लेने की भी डिमांड करते हैं। उन्होंने आगे कहा हम भी इंसान हैं और यह हमारा पेशा है अगर कोई हमारे शरीर पर टिप्पणी करे तो ये गलत बात है। इसलिए दर्शकों को समझना चाहिए कि इनको भी बाकी लड़कियों की तरह उतना ही सम्मान देना जरूरी है।

कौन से देश से आती है ये चीयरलीडर्स :

आईपीएल में अब तो भारत की चीयरलीडर्स भी आ गई है और यह चलन तेजी से फैल रहा है लेकिन इनमें से ज्यादातर चीयरलीडर्स यूरोपीय देशों से आती हैं। इनमें अमेरिका, ब्रिटेन, मैक्सिको, ब्राजील, दक्षिण अफ्रीका व फ्रांस जैसे देशों की चीयरलीडर्स भी शामिल हैं। आईपीएल खत्म होते ही ये किसी दूसरी जगह चीयर करने के लिए लौट जाती हैं।

मैच के अलावा भी करती हैं उपरी कमाई :

वैसे बता दें कि ये चीयरलीडर्स काफी प्रोफेशनल होती हैं और इनके पास अच्छी एजुकेशन डिग्रियां भी होती हैं। एक खास बात और ये चीयरलीडर्स सिर्फ मैच में ही नहीं बल्कि कुछ उपरी कमाई भी करती हैं। अब आप उपरी कमाई का नाम सुनकर ज्यादा दिमाग मत चलाइए हम आपको साफ-साफ बता दें कि इनको मैच के अलावा बाकी जगहों पर टीम का उत्साह बढ़ाने के 12 हजार रुपए तक मिलते हैं इसके अलावा अखबारों और पत्रिकाओं के लिए फोटोशूट करवाने के भी अलग से पैसे मिलते हैं।
loading...

Post a Comment

0 Comments

Adblock Detected

Like this blog? Keep us running by whitelisting this blog in your ad blocker

Thank you

×
Get the latest article updates from this site via email for free!