Space for advertisement

बेड पर रखा हुआ था मोबाइल अचानक हो गया ब्लास्ट, पूरे फ्लैट में लगी आग, मची तबाही



मोबाइल (इसे सेलफोन और हाथफोन भी बुलाया जाता है, या सेल फोन, सेलुलर फोन, सेल, वायरलेस फोन, सेलुलर टेलीफोन, मोबाइल टेलीफोन या सेल टेलीफोन) एक लंबी दूरी का इलेक्ट्रॉनिक उपकरण है जिसे विशेष बेस स्टेशनों के एक नेटवर्क के आधार पर मोबाइल आवाज या डेटा संचार के लिए उपयोग करते हैं

ग्रेटर नोएडा वेस्ट की गौर सिटी हाउसिंग सोसाइटी में शनिवार शाम एक बड़ा हादसा टल गया। यहां फ्लैट में मोबाइल फट गया और बेडरूम में आग लग गई। परिवार के सदस्यों ने बेडरूम से निकलता हुआ धुआं देख लिया और आनन-फानन में बाल्टी से पानी फेंककर आग बुझा दी। इस दौरान फ्लोर कॉरिडोर में रखा फायर एक्सटिंग्विशर भी काम नहीं आया।

गौर सिटी 6 एवेन्यू में रहने वाले ने बताया कि शनिवार की शाम वह बाजार से सामान लेने गए थे। करीब 7 बजे लौट कर आए तो बेडरूम से धुआं निकलता देखा। उन्होंने कहा कि उनकी पत्नी और बच्चा दूसरे कमरे में थे। बेडरूम में धुआं देखकर पानी लिया और बेडरूम में फेंकना शुरू कर दिया। आग बुझाने के बाद यह जानने की कोशिश की कि आग कैसे लगी है। वह अपना मोबाइल फोन बेड पर रखकर गए थे। मोबाइल के परखच्चे उड़े हुए मिले।

उन्होंने कहा कि यह चौंकाने वाली घटना है। मुझे तो मोबाइल फोन का हाल देखकर दहशत हो गई है। गौर सिटी 6 एवेन्यू में रहने वाले और अपार्टमेंट ऑनर्स एसोसिएशन के सदस्य अमित शर्मा ने कहा कि मोबाइल फोन का फटना बेहद आश्चर्यजनक है। फ्लैट में स्मोक सेंसर और फायर स्प्रिंकलर लगे हुए हैं, लेकिन काम नहीं किया।

क्या बरतें एहतियात

- आप मोबाइल फोन को तकिए के नीचे रखकर न सोएं, इससे उसका टेंपरेचर बढ़ता है।

-रात के समय कभी भी फोन को चार्जिंग पर न लगाएं, इससे भी मोबाइल के फटने का खतरा रहता है।

-फोन के चार्जिंग के दौरान आसपास ऐसी चीजें न रखें, जिससे आसानी से आग पकड़ती हो।

-मोबाइल को चार्ज करने के लिए डुप्लीकेट चार्जर या एडाप्टर का इस्तेमाल न करें।

-वहीं अगर आपके फोन की बैटरी खराब हो गई है, तो ओरिजनल बैटरी का ही इस्तेमाल करें।
loading...

Post a Comment

0 Comments

Adblock Detected

Like this blog? Keep us running by whitelisting this blog in your ad blocker

Thank you

×
Get the latest article updates from this site via email for free!