Space for advertisement

जब पीएम ने कहा, आपको मकान मिला मुझे क्‍या दोगे तो मिला ये जवाब

जब पीएम ने कहा, आपको मकान मिला मुझे क्‍या दोगे तो मिला ये जवाबनई दिल्‍ली: कोरोना महामारी ने दुनिया पर आर्थिक रूप से भी बड़ा प्रहार किया है। भारत अभी भी कोरोना महामारी से जूझ रहा है और दिहाड़ी मजदूरों के पास ज्‍यादा काम भी नहीं है। इसी को देखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार ने 'आत्मनिर्भर उत्तरप्रदेश रोजगार अभियान' की शुरुआत की है, जिसका उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए 'आत्मनिर्भर उत्तरप्रदेश रोजगार अभियान' की शुरुआत की। इस दौरान उन्‍होंने 6 जनपदों के लोगों से बात भी की। पहले जनपद हरदोई और बहराइच के लोगों से बात की। इस मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद हैं।

आपको मकान मिला मुझे क्‍या दोगे

इस दौरान उन्होंने गोंडा की विनीता और बहराइच के तिलकराम से बात की। प्रधानमंत्री ने तिलकराम से कहा, 'आपको मकान मिला है, लेकिन मुझे क्या दोगे?' जवाब में उन्होंने कहा कि हम दुआ करते हैं कि आप पूरी जिंदगी प्रधानमंत्री रहें। प्रधानमंत्री ने कहा कि आप मेरे लिए एक काम करेंगे। आप अपने बच्चों को अच्छी पढ़ाई कराएं और इसकी जानकारी मुझे देते रहें।

सिद्धार्थनगर के कोडरा गांव के कुरबान अली ने काम मिलने पर मोदी तथा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि हम मुंबई में काम करने से पहले गांव में प्राइवेट काम करते थे, अब हमको राजमिस्त्री काम मिला है। हम ट्रेनिंग भी कर रहे हैं, हमको इसका प्रमाणपत्र भी मिला है।

अभियान के पहले दिन 65 लाख श्रमिक एक साथ शुरू करेंगे काम


प्रदेश सरकार ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान के अंतर्गत अकेले मनरेगा योजना के तहत गोंडा, बलरामपुर सहित 31 जिलों के लिए करीब 900 करोड़ रुपये की कार्ययोजना तैयारी की है। अभियान के पहले दिन एक साथ करीब 65 लाख लोगों को एक साथ रोजगार देने की तैयारी है। यह अभियान 125 दिनों तक चलेगा। इससे स्थानीय स्तर पर करीब 60 हजार परिसंपत्तियों का निर्माण होगा और 873.87 करोड़ रुपये खर्च होने का अनुमान है। अगले चार महीने में सरकार मनरेगा के अंतर्गत करीब 4800 करोड़ रुपये खर्च कर लोगों को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने की तैयारी कर रही है।

इन जिलों में शुरू होगा अभियान

गोंडा, बलरामपुर, अंबेडकर नगर, अमेठी, अयोध्या, आजमगढ़, बहराइच, बांदा, बस्ती, देवरिया, फतेहपुर, गाजीपुर, गोरखपुर, हरदोई, जालौन, जौनपुर, कौशांबी, खीरी, कुशीनगर, महराजगंज, मिर्जापुर, प्रतापगढ़, प्रयागराज, रायबरेली, संतकबीर नगर, श्रावस्ती, सिद्धार्थनगर, सीतापुर, सुल्तानपुर, उन्नाव व वाराणसी।

केंद्र ने पीएम केयर फंड से यूपी को दिए 52 करोड़

केंद्र सरकार ने पीएम-केयर फंड से यूपी को 52 करोड़ रुपये का आवंटन किया है। यह रकम प्रवासी श्रमिकों की देखभाल व सहायता में खर्च की जाएगी। केंद्र सरकार ने पीएम-केयर फंड से 1000 करोड़ रुपये राज्यों के बीच आवंटन के लिए प्रदेश सरकार से अलग अकाउंट की जानकारी मांगी थी। राज्य आपदा प्रबंध प्राधिकरण ने इसके लिए एक अलग अकाउंट खोला था। अब केंद्र सरकार ने पीएम केयर फंड से यूपी को 52 करोड़ 51 लाख 99 हजार 410 रुपये का आवंटन किया है। यह रकम प्रवासी श्रमिकों के कल्याण के तहत उनके ठहरने, भोजन व्यवस्था, इलाज व परिवहन मद में खर्च की जा सकेगी।
loading...

Post a Comment

0 Comments

Adblock Detected

Like this blog? Keep us running by whitelisting this blog in your ad blocker

Thank you

×
Get the latest article updates from this site via email for free!