Space for advertisement

किसान क्रेडिट कार्ड क्या होता है ? जाने इसके लाभ और Kisan Credit Card कैसे बनवाएं ?

Kisan Credit Card Scheme farmer yojana
भारत एक कृषि प्रधान देश है जहां लगभग हर राज्य में किसी न किसी रूप में कृषि की जाती है। हमारे देश की आधी से ज्यादा जनसंख्या यानी की करीब 52 प्रतिशत आबादी कृषि पर निर्भर है। किसान हमारे देश की रीढ़ की हड्डी है क्योंकि भारत की अर्थव्यवस्था में कृषि का बहुत बड़ा योगदान है इसलिए देश की तरक्की के लिए किसान का समृद्ध होना अतिआवश्यक है। यही कारण है कि सरकार किसानों को समृद्ध बनाने के लिए समय समय पर किसान व कृषि संबंधी अनेक प्रकार की योजनाएं लागू करती रहती है ताकि किसानों को मदद मिल सकें।



किसान क्रेडिट कार्ड ( Kisan Credit Card Scheme ) भी एक ऐसी ही योजना है जो किसानों की सुविधा के लिए बनाई गई है। आज हम आपको इसी के बारे में विस्तार से बताने वाले हैं कि किसान क्रेडिट कार्ड योजना क्या है ? इसके क्या-क्या लाभ हैं तथा किसान क्रेडिट कार्ड कैसे बनवाएं ? Kisan Credit Card के लिए आवेदन कैसे करें ? तो आईये जानते हैं

किसान क्रेडिट कार्ड योजना क्या है ? Kisan Credit Card Scheme in Hindi :
इस योजना की शुरुआत साल 1998 में एनडीए की सरकार द्वारा की गई थी। उस समय के तत्कालीन वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने वर्ष 1998- 1999 के बजट के दौरान किसान क्रेडिट कार्ड योजना को पेश किया था। देशभर के किसानों के लिए यह स्कीम काफी फायदेमंद साबित हुई। आप सभी जानते हैं कि हर साल तेज बारिश, बाढ़ व ओलावृष्टि जैसी प्राकृतिक आपदाओं के कारण बहुत से किसानों की फसल बर्बाद होती हैं। ऐसे में जो किसान गरीब होता हैं और ऊंची ब्याज दरों पर पैसे उधार लेकर खेती करता है उसको बहुत नुकसान उठाना पड़ता है। इसी को देखते हुए भारत सरकार ने किसान क्रेडिट कार्ड योजना शुरू की है जिसका उद्देश्य किसानों को बैंक से सामान्य ब्याज की अपेक्षा बहुत कम ब्याज दरों पर लोन उपलब्ध कराना है।

किसान क्रेडिट कार्ड से कोई भी किसान अपनी आवश्यकता के हिसाब से बैंक से बड़ी आसानी से लोन ले सकता हैं जिस पर बहुत कम ब्याज लगता हैं। जिस प्रकार बैंक द्वारा सामान्य क्रेडिट कार्ड दिया जाता हैं ठीक वैसा ही किसानों को बैंक द्वारा कार्ड मिलता हैं और जब कोई किसान इस कार्ड का प्रयोग करके बैंक से ऋण लेता है तो उसे सामान्य ऋण ब्याज की तुलना में कम ब्याज देना पड़ता हैं।

किसान क्रेडिट कार्ड के लाभ व विशेषताएं :
Kisan-Credit-Card-kaise-banwaye

भारत के किसी भी राज्य में रहने वाला कोई भी किसान इस योजना का लाभ उठा सकता हैं। इसके लिए कोई अलग से योग्यता की जरूरत नहीं है। आईये आपको बताते हैं कि किसान क्रेडिट कार्ड से किसानों को क्या-क्या लाभ मिलते हैं।

1. इसकी मदद से किसानों को सस्ती ब्याज दरों पर पैसे मिल जाते हैं। हर छोटा-बड़ा किसान इससे लोन ले सकता हैं।



2. किसान क्रेडिट कार्ड से नई फसल की बिजाई के दौरान खर्च के लिए पैसे मिल जाते हैं। इसका प्रयोग करके किसान दुकान से खाद, बीज व किटनाशक आदि खरीद सकता हैं।

3. यह क्रेडिट कार्ड किसान के बचत खाते से लिंक होता हैं जिससे अगर खाते में कुछ पैसे बचें हैं तो उन पर ब्याज मिलता रहे।

4. जो व्यक्ति किसान क्रेडिट कार्ड से लोन लेता है उसका बीमा भी साथ ही हो जाता हैं जिससे दुर्घटना या विकलांग होने की स्थिति में 70 साल की आयु तक के किसान को 50 हजार तक कवर प्रदान किया जाता हैं।

जानिए किसान क्रेडिट कार्ड के फायदे :
5. किसान क्रेडिट कार्ड की लिमिट 3 लाख रुपए की होती हैं। हालांकि कई बार किसान क्रेडिट कार्ड से मिलने वाली धनराशि को बढ़ा भी दिया जाता हैं।

6. किसान अपने परिवार की जरूरत को पूरा करने के लिए भी लोन ले सकता हैं। इसके अलावा फसल खराब होने पर किसान को बैंक तथा सरकार की तरफ से मुआवजा भी दिया जाता हैं।

7. किसान क्रेडिट कार्ड से लोन लेना बेहद आसान है इसकी प्रक्रिया काफी सरल है जिससे किसान कम दस्तावेजों के साथ जल्द ही लोन पा सकता हैं।

8. अक्सर चुनावों के दौरान सरकार किसानों के कर्ज को माफ भी कर देती है या कुछ हद तक उसमें छूट दे देती हैं जिससे किसानों को फायदा होता हैं।



9. जो किसान सही समय पर ब्याज देता है बैंक द्वारा उसके क्रेडिट कार्ड की लिमिट बढ़ा दी जाती हैं।

यह भी पढ़ें : बीमा क्या होता हैं ? जाने इंश्योरेंस कितने प्रकार के होते हैं और बीमा करवाने के फायदे

किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने के लिए आवश्यक दस्तावेज ?
1. आवेदन करने वाले व्यक्ति का पहचान प्रमाण पत्र (Identity Proof) आधार कार्ड, पेन कार्ड, वोटर कार्ड, राशन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, इत्यादि।
2. स्थायी पते का प्रमाण (Address Proof)
3. डिमांड प्रोमिसरी नोट।
4. कम्पोजिट हाइपोथेकेशन एग्रीमेंट (CHA -1)

5. प्राधिकरण का पत्र (AG -15)
6. एक पासपोर्ट साइज की कलर फोटो।
7. भंडारण इकाई को सूचित करने के लिए बैंक के ग्रहणाधिकार।
8. प्रतिज्ञा का पत्र (OD -159)

9. कृषि ऋण अधिनियम या भूमि की कानूनी बंधक (CHA -4) के अनुसार जमीन पर शुल्क।
10. किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने के लिए आयु 18 से 70 के बीच होनी चाहिए।
11. महीनों के भीतर अग्रिम चुकाने या उपज की बिक्री पर ब्योरा देना।

12. किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने के लिए आपके पास खेती योग्य भूमि होनी जरुरी है वह बंजर नहीं होनी चाहिए।
13. अगर पहले से लोन लिया हुआ है तो उसका पूरा रिकॉर्ड।
14. अगर आप किसान क्रेडिट कार्ड की लिमिट से ज्यादा है लोन लेना चाहते है तो हो सकता है आपको अपनी जमीन बैंक के पास गिरवी भी रखनी पड़े।

किसान क्रेडिट कार्ड कैसे बनवाएं ? Kisan Credit Card के लिए आवेदन कैसे करें ?


Kisan Credit Card Scheme farmer yojana

हर वो व्यक्ति जो कृषि करता है वह इस कार्ड के लिए आवेदन कर सकता हैं और अपना किसान क्रेडिट कार्ड बनवा सकता हैं। बता दें कि किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने के लिए आप ग्रामीण बैंक, कोपरेटिव व सरकारी बैंकों के अलावा प्राइवेट बैंकों में भी आवेदन कर सकते हैं। ऐसे में आप सबसे पहले बैंक का चुनाव कर ले कि आपको कौन से बैंक से किसान क्रेडिट कार्ड बनवाना है। आप अपने एरिया की नजदीकी कृषि संबंधी बैंक शाखा में जाकर संपर्क कर सकते हैं।

किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने के लिए सबसे पहले बैंक जाएं और वहां से किसान क्रेडिट कार्ड का फॉर्म लेकर अपनी सही जानकारी के साथ फॉर्म भर दें और बैंक कर्मचारियों से पूछ कर फॉर्म के साथ आवश्यक दस्तावेजों की फोटो कॉपी लगाकर बैंक में जमा करवा दें। फॉर्म जमा करवाने से पहले एक बार यह अच्छे से जांच लें कि आपने सभी जानकारी ठीक से भरी है कहीं कोई गलती तो नहीं है। इसके पश्चात बैंक आपके द्वारा जमा किए गए फॉर्म और दस्तावेजों की जांच करेगा अगर सबकुछ सही हुआ तो कुछ दिनों के भीतर ही आपको किसान क्रेडिट कार्ड मिल जाएगा।

यह भी पढ़ें : जानिए हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट लगाने के फायदे और HSRP online registration कैसे करें

इसके अलावा बता दें कि SBI जैसे कुछ बैंक ऑनलाइन किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने की सुविधा देते हैं जिससे आप घर बैठे स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर किसान क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते हैं। अगर आप SBI बैंक के जरिए ऑनलाइन Kisan Credit Card बनवाना चाहते हैं तो यहां क्लिक करें।

Kisan Credit Card से लोन कैसे लें ?
किसान क्रेडिट कार्ड से लोन लेने के लिए भी आपको बैंक जाकर इसके लिए फॉर्म भरना होगा और उसमें लिखना होगा कि आपको कितना लोन चाहिए हैं। सभी बैंकों की प्रक्रिया अलग-अलग हो सकती है इसलिए अगर आपके मन में कोई संदेह है तो वहां के बैंक अधिकारियों से पूछताछ कर सकते हैं। फॉर्म जमा करवाने के कुछ दिन बाद आपको लोन मिल जाएगा। बता दें कि किसान क्रेडिट कार्ड से आप एक निश्चित धनराशि ही लोन पर ले सकते हैं, लिमिट से ज्यादा धनराशि आपको नहीं दी जाती।

जैसा कि हम आपको ऊपर पहले ही बता चुके हैं कि किसान क्रेडिट कार्ड की लिमिट 3 लाख की ही होती हैं। आपको खेती की जमीन के हिसाब से लोन दिया जाता हैं यानी कि कम जमीन है तो कम लोन मिलेगा और अगर जमीन ज्यादा है तो लोन भी ज्यादा मिलेगा। आप जितना भी पैसा लोन पर निकलवाते हो उसका एक निश्चित अवधि के बाद ब्याज भी देना पड़ता है।

किसान क्रेडिट कार्ड पर लोन देने वाले बैंक ?
1. State Bank of India (SBI) 2. Axis Bank 3. Bank of India 4. Syndicate Bank 5. Nabard Bank 6. IDBI Bank 7. NPCI Rupay Credit Card

यह भी पढ़ें : 10 Best Indian Web Series List जरूर देखनी चाहिए ये 10 दिलचस्प हिंदी वेब सीरीज

किसान क्रेडिट कार्ड पर ब्याज दर क्या होती है ?
सभी बैंकों की ब्याज दरें उनकी पॉलिसी के हिसाब से अलग-अलग हो सकती हैं। लेकिन इस बात में कोई शक नहीं कि किसान क्रेडिट कार्ड से लिए गए लोन पर बाकी के सामान्य लोन की तुलना में ब्याज दर कम ही होती हैं। ये ब्याज दरें 3% से लेकर 7% तक हो सकती हैं। सरकार लोन लेने पर सब्सिडी भी देती हैं जिससे ब्याज दर काफी कम हो जाती हैं। जब कोई किसान फसल लोन लेता है जिस पर 7% ब्याज लगता हैं और अगर वह निर्धारित समय पर भुगतान करता है तो उसे 3% की छूट यानी सब्सिडी मिल जाती हैं। लेकिन Term Loan में सरकार की तरफ से सब्सिडी नहीं मिलती। 3 लाख से ज्यादा जो लोन लिया जाता है वह टर्म लोन में आता है।

किसान क्रेडिट कार्ड पर लोन का भुगतान कैसे करें ?
हम आपको यहां स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के नियम के बारे में बता रहे हैं, हो सकता है दूसरे बैंकों के किसान क्रेडिट कार्ड पर लोन का भुगतान करने के नियम अलग हो। दरअसल लोन का भुगतान करने के लिए आपको अपने क्रेडिट कार्ड में पैसे जमा करवाने होते हैं

खरीफ फसल (1 अप्रैल से 30 सितम्बर): इसके लिए किसानों को 31 जनवरी तक पैसे का भुगतान करना होता हैं।

रबी फसल (1 अक्तूबर से 31 मार्च): इसके लिए पैसे का भुगतान 31 जुलाई तक करना होता हैं और अगर खरीफ व रबी दोनों हैं, तो 31 जुलाई तक करना होगा।

जबकि लॉन्ग टर्म क्रॉप के लिए लोन लेने के 12 महीने के भीतर भुगतान करना पड़ता है।

इस पोस्ट में आपने पढ़ा कि : किसान क्रेडिट कार्ड क्या होता है ? Kisan Credit Card कैसे बनवाएं ? किसान क्रेडिट कार्ड योजना क्या है ? Kisan Credit Card Scheme in Hindi. किसान क्रेडिट कार्ड के लाभ व विशेषताएं। किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने के लिए आवश्यक दस्तावेज ? Kisan Credit Card से लोन कैसे लें ? किसान क्रेडिट कार्ड पर लोन का भुगतान कैसे करें ? किसान क्रेडिट कार्ड पर ब्याज दर क्या होती है ? यानी कि यह पोस्ट पढ़कर आपको किसान क्रेडिट कार्ड से संबंधित सभी जानकारियां मिल गई होंगी। उम्मीद करते हैं आपको यह पोस्ट अच्छा लगा होगा। अगर आपका कोई सवाल है तो आप नीचे कमेंट करके हम से पूछ सकते हैं।
loading...

Post a Comment

0 Comments

Adblock Detected

Like this blog? Keep us running by whitelisting this blog in your ad blocker

Thank you

×
Get the latest article updates from this site via email for free!