Space for advertisement

व्यक्ति के सोने का तरीका बताता है उसकी पर्सनालिटी के सभी छिपे राज



अगर किसी व्यक्ति के व्यक्तित्व को पहचानना हो तो हम उसकी बोलचाल, आचरण और हावभाव से पहचान सकते हैं। कहा जाता है जिसका आचरण उत्तम होता है वही सर्वगुण संपन्न होता है। क्योंकि जिसका स्वभाव अच्छा होता है वही सर्वप्रिय होता है। व्यक्ति की पहचान उसके स्वभाव से होती है। अगर स्वभाव अच्छा न हो तो आप चाहे कितनी भी बड़ी हस्ती क्यों न हो जाए आपकी उतनी इज्जत कोई नहीं करेगा, जितना एक गरीब सेवक की लोग करेंगे। स्वभाव से ही तो राजनीति शुरू होती है। इंसान के अंदर ऐसी कई अनगिनत चीज़ें है जिसके द्वारा हम उनके गुणों और दुर्गुणों का पता लगा सकते है। हम यहाँ तक जान सकते हैं कि फले व्यक्ति का चरित्र कैसा है। यही चीज महिलाओं पर भी लागू होती है।


ऐसा कहा जाता है कि महिलाओं के सोने के तरीके से उनके चरित्र और स्वभाव का अंदाजा लगाया जा सकता है। वह बिस्तर पर किस पोजीशन में सोती है यह जानकार हम यह पता लगा सकते है कि महिला का स्वभाव शांत है या गुस्से वाला।

ऐसा देखा गया है कि कुछ महिलाएं अकेली सोती है तो कुछ तकिये और खिलौने को लेकर सोती है। सोते समय इंसान वैसे तो अवचेतन अवस्था में चला जाता है लेकिन फिर भी वह अपनी इन्द्रियों पर नियंत्रण रखता है। कुछ तो ऐसे सोते है कि उन्हें अंदाजा ही नहीं रहता है कि वह कैसे और कहाँ सो रहे है। सोने की पोजीशन से हम पता लगा सकते है की व्यक्ति का स्वभाव कैसा है।

कुछ महिलाएं पेट के बल लेटकर सोती है तो कुछ शरीर को मोड़कर सोती है। महिलाओं के सोने से तरीकों से हम उनके व्यक्तित्व के बारें में बहुत कुछ जान सकते है। आइये इस बारे में विस्तार से जानते है।

पीठ के बल सोना :
जो महिला पीठ के बल सोती है वह सकारात्मक सोच वाली होती है। ऐसी महिला जीवन से प्यार करती है। इन्हें अटेंशन पाने और अच्छे लोगों के साथ रहना अच्छा लगता है। ऐसी महिलाएं जिद्दी और निरंतर काम करने वाली होती है। ये सच्चाईपसंद व्यक्तित्व की होती है। जो महिला पीठ के बल सोती है वह मजबूत व्यक्तित्व की होती है।
घुटने बाहर निकालकर सोना :
अगर महिला अपने घुटनों को बिना चिपकाये नहीं सो पाती है तो इसका मतलब वह भरोसेमंद और शांत स्वाभाव की है। इस तरह की महिलाएं भविष्य से डरती है। इनको अपमानित करना इतना आसान नहीं होता है। ऐसी महिलाएं दुःख के समय में भी मुस्कुराती है। ये जीवन में जो भी बदलाव होता है उनमे समन्वय स्थापित कर लेती है।

सैनिक की तरह सोना :

पीठ पर एकदम सीधे अकड़कर और हाथ शरीर से चिपकाकर सावधान मुद्रा में सोना ‘सैनिक की तरह सोना’ कहलाता है। ऐसी महिलाओं को पता होता है कि उन्हें ज़िन्दगी में क्या करना है, उनका लक्ष्य क्या है? यह अपने लक्ष्य के प्रति केंद्रित होती है। ये महिलाएं सख्त और डिमांडिंग हो सकती है। यह दूसरों से अधिक उम्मीद रखती है।

एक पैर उठाकर सोना :

जो महिला एक पैर उठाकर सोती है वह अप्रत्याशित व्यक्तित्व वाली होती है। यह हमेशा रोमांच के लिए तैयार रहती है। इन महिलाओं में मूड स्विंग होता है। इससे यह अपने आसपास को लोगों को चौंका सकती है। इस तरह की महिलाएं स्थिरता, शांति और पूर्णता को प्राथमिक मानती है।
भ्रूण की तरह सोना :

जो महिला भ्रूण की तरह सोती है वह दूसरों के उन्हें समझने और सहानभूति रखने की अधिक आवश्यकता महसूस करती है। इस तरह से इनका सोना बताता है कि यह दुनिया में आने वाली समस्याओं से खुद को दूर करने की कोशिश करती है। ये महिलाएं पेंटिंग, डांस और ब्लॉग लिखने में इंटरेस्ट रखती है।
पेट के बल सोना :



पेट के बल सोने वाली महिलाएं एग्रेसिव स्वभाव की होती है। इनमें लीडरशिप की क्षमता होती है। ऐसी महिलाएं किसी भी चीज को करने से पहले उसकी योजना बनाना पसंद करती है। ये महिलाएं दृढ़ता की पावर में विश्वास करती है। ये जानती है कि ऐसा करने से यह बड़ी से बड़ी सफलता प्राप्त कर सकती है।

अगर कोई महिला एक के बजाय अलग-अलग पोजीशन में सोती है तो इसका मतलब है वह महिला बहुमुखी प्रतिभा की धनी है। उनमे गहराई है। आपको यह पोस्ट कैसा लगा ? कमेंट करके हमे जरुर बताएं।
loading...

Post a Comment

0 Comments

Adblock Detected

Like this blog? Keep us running by whitelisting this blog in your ad blocker

Thank you

×
Get the latest article updates from this site via email for free!