Space for advertisement

अमिताभ को सरजी ना बुलाने की कदर खान ने झेली थी सजा, फिल्म से कर दिए गए थे बाहर



अमिताभ को सरजी ना बुलाने की कदर खान ने झेली थी सजा, फिल्म से कर दिए गए थे बाहर - बॉलीवुड हमेशा से प्रतिभा की खान रहा है और यहां पर खानों का हमेशा से जलवा रहा है। इस लिस्ट में एक बेहद ही दमदार और दिग्गज खान का नाम भी शामिल है जो अब इस दुनिया में नहीं हैं। अपनी एक्टिंग से लोगों के दिलों पर राज करने वाले दिवंगत कादर खान ने इंडस्ट्री में लंबा वक्त बिताया था। उन्होंने 80 और 90 के दशक में एक से बढ़कर एक फिल्मे की। कभी वो कॉमेडी रोल में नजर आए तो कभी विलेन के रोल में। हर रोल में उन्हें जनता का प्यार मिला। कादर खान के साथ अमिताभ बच्चन ने भी काम किया है। हालांकि एक बार उन्हें अपनी दोस्ती की कीमत खुद को फिल्म से बाहर निकलवाकर चुकानी पड़ी थी। आपको बताते हैं उस किस्से के बारे में जिसका खुलासा खुद कादर खान ने किया था।

अमिताभ को सरजी ना बुलाने की झेली सजा

80 के दशक में जब अमिताभ बच्चन फिल्म इंड्स्ट्री में मजबूती से आगे बढ़ रह थे तो वहीं कादर खान भी एक से बढ़कर एक फिल्मे कर रहे थे। एक्टिंग के साथ-साथ कादर खान स्क्रीन प्ले और फिल्म के डॉयलाग्स भी लिखा करते थे। कादर खान ने 300 से ज्यादा फिल्मों में काम किया था और अमिताभ से उनकी अच्छी दोस्ती थी। कादर अमिताभ को अमित कहकर बुलाते थे।



एक इंटरव्यू में कादर खान ने बताया था कि, ‘उस वक्त मैं अमित जी को अमित बोलता था। एक बार किसी ने मुझसे कहा कि आप सर जी को मिला? वो साउथ के कोई प्रोड्यूसर थे। मैंने पूछा- कौन सर जी? उन्होंने मुझसे कहा- वो लंबे से आदमी। उस पर मैंने कहा कि वो अमित है, सर जी क्यों। सब वहां अमित को सर जी सर जी कहते थे। मेरी अमित से दोस्ती थी तो मैं उसे सर जी नहीं कहता था। मेरे मुंह से सर जी नहीं निकला तो मैं निकल गया वहां से’।

फिर अमिताभ से दूर हो गए कादर खान

कादर खान ने आगे कहा था, ‘क्या कोई आदमी अपने भाई या दोस्त को किसी और नाम से पुकार सकता है क्या? इसलिए उनके साथ फिर मेरा वो राब्ता नहीं रहा। मैं खुदा गवाह में नहीं रहा, गंगा जमनी सरस्वती मैंने आधी लिखी छोड़ दी थी। मैंने बहुत सी फिल्में लिखी, लेकिन फिर छोड़ दी’।

एक बार एक किस्से का जिक्र करते हुए कादर ने कहा था, ‘उस जमाने में जब ‘कुली’ बन रही थी तो मैं जब आखिरी दिन वहां से शूट करके निकला तो मुझे अमित जी ने आवाज दी। उन्होंने कहा- तुम एक काम करो कि आज जाओ, परसों वापस आना, हम यहीं पर तुम्हारी फिल्म की अनाउंसमेंट कर देंगे, बल्कि मुहूर्त ही कर देंगे। मैंने कहा “ठीक है, इससे पहले मैंने ‘शमा’ फिल्म बनाई थी, उसमें बड़ी तकलीफ हुई थी मुझे। किसी एक्टर को कभी प्रोड्यूसर नहीं बनना चाहिए।”

आगे कादर खान ने बताया कि, ‘मैं परसों जाने की तैयारी में था कि मेरे पास अमिताभ के भाई अजिताभ का फोन आया। उन्होंने कहा अभी आप मत आइए दा को चोट लग गई है। दो दिन छोड़कर फिर जाने का सोचा तो पता चला कि उन्हें बहुत ज्यादा चोट आई है। मैं घबराया और फ्लाइट लेकर उनके पास पहुंचा। फिर हम उन्हें मुंबई लाए और ब्रीच कैंडी में उन्हे भर्ती कराया। इसके बाद वो ठीक हुए तो इलेक्शन में बिजी हुए। फिर वो एमपी बन गए, जब एमपी बने तो वहां उनकी लाइन चेंज हो गई। इसके बाद मेरा उनसे वो रिश्ता नहीं रहा जो पहले हुआ करता था’।

इस खबर के बारे में अगर आपको और जानकारी चाहिए तो नीचे कमेंट बॉक्स में अपना सवाल जरूर पूछें। ऐसी ही और ख़बरें पढ़ने के लिए हमें फॉलो करना न भूलें। 
loading...

Post a Comment

0 Comments

Adblock Detected

Like this blog? Keep us running by whitelisting this blog in your ad blocker

Thank you

×
Get the latest article updates from this site via email for free!