Space for advertisement

टेलीग्राम ने 2GB फ़ाइल शेयर करने का ऑप्शन शुरू किया, साथ में वॉट्सऐप के मज़े भी ले लिए



एक ऐप है टेलीग्राम. बिलकुल वॉट्सऐप की तरह. बस थोड़े बहुत बदलाव हैं. अभी हाल ही में इसने ऐलान किया कि इसके यूज़र अब 2GB तक की फ़ाइल शेयर कर पाएंगे. पहले ये लिमिट 1.5GB थी. इस ऐलान के साथ टेलीग्राम ने और भी कई सारे फ़ीचर अनाउन्स किए और साथ ही वॉट्सऐप की चुटकी भी ले ली.

कैसे? हम बताते हैं.

वैसे तो वॉट्सऐप लगभग हर किसी का पसंदीदा ऐप है. लेकिन जब भारी भरकम फ़ाइल या विडियो भेजने की बारी आती है तो ईमेल, गूगल ड्राइव या फिर वी-ट्रांसफर का सहारा लेना पड़ता है. क्यों? क्योंकि वॉट्सऐप 16MB से बड़ी फ़ाइल देखकर हाथ खड़े कर देता है. टेलीग्राम ने बिना वॉट्सऐप का नाम लिए कहा,

“हम 2014 से अपने यूज़र्स को 1.5GB फ़ाइल शेयर करने का ऑप्शन देते आ रहे हैं, जो कि 16MB से 93 गुना ज़्यादा है. 16MB तो बस एक रैंडम नम्बर है. हमें नहीं पता कि इसका मतलब क्या है.”

ये तो हुई वॉट्सऐप और टेलीग्राम की बात. लेकिन कुछ और भी मैसेजिंग ऐप्स हैं जिनसे बड़ी फाइल्स शेयर कर सकते हैं. आज हम ऐसे ही कुछ पॉपुलर मैसेजिंग ऐप और उनकी फ़ाइल शेयरिंग लिमिट के बारे में बात करेंगे.

वायबर (Viber)
वायबर भी हाइक और वॉट्सऐप टाइप का ही ऐप है. सारे काम वैसे ही होते हैं. इंडिया में इतना पॉप्युलर नहीं है, लेकिन बाहर कुछ देशों में काफ़ी हल्ला है इसका. इससे 200MB तक की फ़ाइल शेयर की जा सकती हैं.

हाइक (Hike)
हाइक ख़ास तौर पर अपने स्टिकर के लिए जाना जाता है. स्टिकर को इसी ने पॉप्युलर किया था और बाद में वॉट्सऐप और फेसबुक मैसेंजर ने कॉपी कर ली. हाइक अपने प्लैटफॉर्म पर 100MB तक की फ़ाइल शेयर करने का ऑप्शन देता है.
सिग्नल (Signal)
सिग्नल अपनी प्राइवेसी और सिक्योरिटी सेटिंग के लिए जाना जाता है. विडियो कॉल, मैसेज, और SMS के अलावा फ़ाइल शेयरिंग का भी ऑप्शन देता है. इस पर आप 100MB तक की फ़ाइल भेज सकते हैं.
हैंगआउट्स (Hangouts)
गूगल टॉक का काम तमाम कर के गूगल ने हैंगआउट्स चालू किया था. मोबाइल ऐप्लिकेशन के साथ-साथ ये कम्प्यूटर पर जीमेल में लगा हुआ आता है. बाक़ी के मैसेजिंग ऐप्स की तरह ये ऐप मोबाइल नम्बर से लॉगिन नहीं होता. इसको चलाने के लिए गूगल अकाउंट लगता है. हैंगआउट्स भी 100MB तक की फ़ाइल शेयर करने का ऑप्शन देता है.

फ़ेसबुक मैसेंजर (Facebook Messenger)
फ़ेसबुक मैसेंजर को तो फ़ेसबुक चलाने वाले बड़े अच्छे से जानते हैं. मैसेंजर इंस्टॉल करवाने के लिए फ़ेसबुक ने अपनी मेन ऐप से मैसेज ही उड़ा दिए. बोला मैसेज देखने हैं तो मैसेंजर ऐप डालो. वो दिन है और आज का दिन है, फ़ेसबुक के मैसेज पढ़ने के लिए इस ऐप को इंस्टॉल कर रखा है. ये ऐप सिर्फ़ 25MB तक ही फ़ाइल शेयर करने का ऑप्शन देता है. इसके ज़रिए विडियो तो नहीं, फ़ोटो शेयर करने का चलन है.
loading...

Post a Comment

0 Comments

Adblock Detected

Like this blog? Keep us running by whitelisting this blog in your ad blocker

Thank you

×
Get the latest article updates from this site via email for free!