Space for advertisement

BJP में फिर शामिल होगा सिद्धू जोड़ा! पत्नी ने रखी शर्त, कांग्रेस में मचा हड़कंप



राजनीतिक पार्टियों में दल-बदल की बातें अक्सर सुनने को मिलती हैं. कुछ दिनों से राजस्थान सरकार पर भी सियासी संकट के बादल मंडरा रहे हैं. तो दूसरी तरफ पंजाब कांग्रेस सरकार से पूर्व क्रिकेटर व कांग्रेस के नेता नवजोत सिंह सिद्धू (navjot singh sidhu) नाराज चल रहे हैं. इस बीच उनकी पत्नी नवजोत कौर सिद्धू (navjot kaur sidhu) ने भारतीय जनता पार्टी (BJP) में फिर से शामिल होने के बड़े संकेत दे दिए हैं साथ ही शर्त भी रखी है. अगर ऐसा होता है तो सिर्फ उनकी पत्नी ही नहीं बल्कि सिद्धू भी दौड़े-दौड़े बीजेपी में शामिल हो जाएंगे और कांग्रेस को तगड़ा झटका देंगे.

BJP में शामिल होने के संकेत

दरअसल, हाल ही में नवजोत कौर सिद्धू मानसा के भीखी के डेरा बाबा बलवंत मुनि जी के दर्शन करने आई थी जहां उन्होंने डेरे के गद्दीनशीन बाबा दर्शन मुनि जी से आशीर्वाद लिया. इसके बाद नवजोत ने मीडिया से बातचीत की. नवजोत ने साफ-साफ कहा कि, मैं हमेशा से कहती आई हूं और आज भी वहीं पर हूं. यदि भारतीय जनता पार्टी अकाली दल का साथ छोड़ देगी तो पार्टी में शामिल हो सकते हैं.

अकाली दल और बीजेपी

मालूम हो कि, भारतीय जनता पार्टी पंजाब में चुनाव शिरोमणि अकाली दल के साथ लड़ती है. लेकिन सत्ता में रहते हुए जो काम अकाली दल ने किए उनसे नवजोत सिंह सिद्धू और उनकी पत्नी खुश नहीं थी. इसी वजह से दोनों ने बीजेपी से पल्ला झाड़ लिया और नवजोत ने हाथ यानि कांग्रेस का दामन थाम लिया. पर यहां भी सिद्धू और पार्टी के बीच अनबन चल रही है.

कांग्रेस के कामों से खुश

नवजोत सिंह सिद्धू से जब मीडिया ने पंजाब में जहरीली शराब से हुई मौतों पर सवाल किया तो वह बोलीं कि, जो भी दोषी होगा उसे सजा दी जाएगी और ऐसे लोगों की तो संपत्ति जब्त कर लेनी चाहिए. इसके साथ उन्होंने कहा कि, पंजाब सरकार ने जो भी काम दिया उसे पूरा किया गया और नवजोत सिंह सिद्धू एक ऐसे विधायक हैं जिन्होंने कोरोना काल में करोड़ों रुपये अपने खर्च किए और जरूरतमंद लोगों को राशन दिया.

आप पार्टी में होंगे शामिल!

नवजोत सिंह सिद्धू के आम आदमी पार्टी में शामिल होने के काफी वक्त से कयास लगाए जा रहे हैं और उनकी पत्नी भी दिल्ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल के कामों से खुश हैं. आम आदमी पार्टी के कई नेता नवजोत सिंह सिद्धू से पार्टी में शामिल होने का न्यौता दे चुके हैं. जिसका मकसद पंजाब में आप पार्टी को मजबूत करना है. अटकलें है कि, अगर नवजोत सिंह सिद्धू आप पार्टी में आते हैं तो चुनावी मैदान में पार्टी उन्हें मुख्यमंत्री के चेहरे के रूप में खड़ा कर सकती है. पर इन बातों पर अब तक सिद्धू की प्रतिक्रिया नहीं आई है.
loading...

Post a Comment

0 Comments

Adblock Detected

Like this blog? Keep us running by whitelisting this blog in your ad blocker

Thank you

×
Get the latest article updates from this site via email for free!