Space for advertisement

केवल 5 रुपए में भरें मच्छर मारने की रिफिल

loading...


मच्छर एक बहुत ही हानिकारक कीट है जो दुनिया के हर स्थान पर पाया जाता है। वैसे तो पृथ्वी पर बहुत से कीट ऐसे पाए जाते है जिनसे मनुष्य के लिए नुकसान दायक है, लेकिन छोटा सा मच्छर मनुष्य का सबसे बड़ा शत्रु होता है। मनुष्य को स्वास्थ्य हानि पहुंचाने वाले कीटों में मच्छर का नाम सबसे ऊपर आता है। क्योंकि यह छोटा सा मच्छर कई प्रकार के संक्रमण अपने साथ लेकर घूमता है। जब यह छोटा सा मच्छर अपने डेंग्यू और मलेरिया जैसे हथियार का इस्तेमाल करता है तो हर साल कई लोगों की जान ले लेता है। इस मच्छर से फैलने वाले जानलेवा हमले से बचने के लिए मनुष्य ने भी कई प्रकार के प्रोडक्ट बनाए है। लेकिन ये प्रोडक्ट मच्छरों को कम जबकि मनुष्यों को ज्यादा नुकसान पहुंचाते है। सबसे ज्यादा इससे बुजुर्ग और बच्चे प्रभावित होते है।

मौसम में गर्माहट आते ही घरों में मच्छरों की तादाद बढऩे लगती है। ऐसे में बाजार में मौजूद केमिकल्स, स्प्रे और रिफिल्स भी काम नहीं आती हैं। अगर आप भी परेशान हैं तो ये उपाय कर मच्छरों से छुटकारा पाया जा सकता है। हम जिस लिक्विड का इस्तेमाल करते है वह ७० से २०० रुपए तक का आता है, लेकिन आज अब आपको बताने जा रहे है मच्छर भगाने का एक ऐसा घरेलू नुख्शा। जिसकी मदद से महज ५ रुपए के खर्च पर आप मच्छर भगाने की लिक्विड तैयार कर सकते है।

70 रुपए की आती है नुकसान दायक रिफिल

मच्छरों से बचने के लिए आमतौर पर बाजार में मिलने वाली नामी कंपनियों की रिफिल आज हर व्यक्ति खरीद रहा है। करीब २० एमएल की यह रिफिल रुपए ६० से १०० रुपए तक ही आती है। जो महीने में २० से २२ दिन तक चलती है। बाजार में मिलने वाली रिफिल में उपयोग होने वाले रसायन से मनुष्य के स्वास्थ्य पर प्रभाव होने की भी बातें सामने आती रहती है। यानि स्पष्ट है कि इतना खर्च करने के बाद भी हमारे स्वास्थ्य से खिलवाड़ हो रहा है, लेकिन मच्छरों से बचने के लिए हमारे पास कोई दूसरा उपाय नहीं होने के कारण हम मजबूरी में इसका इस्तेमाल करते आ रहे हैं।

ये भी पढ़ें - 


घर में ही तैयार करें 5 रुपए खर्च पर रिफिल

मच्छरों को भगाने के लिए हमारे द्वारा घर में ही एक लिक्विड तैयार किया जा सकता है। जिसका खर्च ५ रुपए के भीतर एक रिफिल तैयार करने में आता है। बताया जाता है कि घरेलू नुख्शे से तैयार किया जा सकता है। वह भी बहुत ही आसान तरीके से। इसके कोई साइड इफेक्ट भी नहीं बताए जाते है। हालांकि, इसकी जानकारी अब तक लोगों को नहीं होने के कारण इसका उपयोग कम है। चलिए अब आप जान लीजिए कैसे घर में तैयार कर सकते है मच्छर मारने का लिक्विड....

इन स्टेप्स में पढ़ें पूरी विधि

- सबसे पहले हमारे पास रिफिल के लिए इस्तेमाल हो चुकी खाली शीशी होनी चाहिए।

- अब खाली रिफिल का ढक्कन खोलकर रखना है।

- अब चार से पांच टिकिया कपूर की हम उपयोग में लेंगे।

- कपूर की सभी टिकियों को अच्छी तरह से पीस लें।

- अब हमें नीम के तेल की आवश्यकता होगी।

- नीम का तेल हम घर में भी बना सकते है अथवा बाजार से खरीद सकते है।

- करीब ३० से ४० एमएल नीम के तेल को हम लेते है।

- अब नीम के तेल में कपूर का मिला देते है।

- दोनों का मिश्रण करने के बाद एक लिक्विड तैयार हो जाता है, जिसे हम खाली रखी शीशी में लिक्विड रिफिल कर देंगे।

- अब वापस से शीशी के ऊपर की डांट अच्छी तरह कसकर हम लगा देंगे।

- यहां नीम के तेल की जगह ताड़पीन का तेल भी इस्तेमाल किया जा सकता है। हालांकि, नीम का तेल ज्यादा कारगर माना गया है।

- इस तरह देशी तरीके से मच्छर भगाने का लिक्विड तैयार हो चुका है।

- इसे हम किसी भी कंपनी की मशीन में लगाकर उसी तरह उपयोग कर सकते है जैसे कि आम लिक्विड करते है।

ये हैं घरेलू रिफिल के फायदे

- पहला फायदा पॉकेट से जुड़ा है। आम तौर एक रिफिल ६० से १०० रुपए तक कीमत की आती है। इसके इस्तेमाल से आपका बजट नहीं गड़बड़ाएगा। रुपयों की भी बचत होगी।

- दूसरा फायदा स्वास्थ्य से जुड़ा है। बताया जाता है कि कपूर और नीम का तेल मानव स्वास्थ्य के लिए काफी अच्छा माना गया है। कपूर में कई प्रकार के रोगों से लडऩे की क्षमताएं बताई जाती है। ऐसे में इसका सीधा सा लाभ स्वास्थ्य पर भी देखने मिलेगा।

- बच्चों और वृद्धों के लिए रसायन वाली लिक्विड के तमाम सारे नुकसान बताए गए हैं। ऐसे में अगर घेरलू लिक्विड कर इस्तेमाल करते तो इनसे भी बचा जा सकता है।

मच्छरों से बचने के लिए ये भी हैं कुछ घरेलू नुख्शे, जिन्हें नहीं किया जा सकता इग्नॉर

कपूर

कमरे में कपूर जला दें और 10 मिनट के लिए खिड़की और दरवाजों को बंद कर दें। सारे मच्छर भाग जाएंगे।

लहसुन

लहसुन की तेज गंध मच्छरों को दूर रखती है। लहसुन का रस शरीर पर लगाएं या फिर इसका छिड़काव करें।

लैवेंडर

यह न सिर्फ खुशबूदार है पर एक शानदार तरीका भी है मच्छरों से बचने का। इस फूल की खुशबू असरदार होती है जिससे मच्छर भाग जाते हैं। इस घरेलू उपाय के उपयोग के लिए लैवेंडर के तेल को एक कमरे में प्राकृतिक फ्रेशनर के रूप में छिड़कें।

अजवाइन और सरसों का तेल

सरसों के तेल में अजवाइन पाउडर मिलाकर इससे गत्ते के टुकड़ों को तर कर लें और कमरे में ऊंचाई पर रख दें। मच्छर पास भी नहीं आएंगे।

नींबू और नीलगिरी का तेल

मच्छर भगाने वाली रिफिल में लिक्विड खत्म हो जाने पर उसमें नींबू का रस और नीलगिरी का तेल भरकर लगाएं। इस हाथ-पैरों पर भी लगा सकते हैं।

नीम का तेल

नीम के तेल को हाथ-पैरों में लगाएं या फिर नारियल के तेल में नीम का तेल मिलाकर उसका दीया जलाएं।

पुदीना

पुदीने के पत्तों के रस का छिड़ाव करने से मच्छर दूर भागते हैं। इसे शरीर पर भी लगाया जा सकता है।

तुलसी का रस लगाएं

शरीर पर तुलसी के पत्तों का रस लगाने से मच्छर नहीं काटते हैं। घरों में लगा तुलसी का पौधा मच्छरों को दूर रखता है।
loading...

Post a Comment

0 Comments

Adblock Detected

Like this blog? Keep us running by whitelisting this blog in your ad blocker

Thank you

×
Get the latest article updates from this site via email for free!