Space for advertisement

अगर आपको कभी काट लें सांप तो ऐसे कर सकते है अपना बचाव

loading...


लोगों में बहुत पहले से ही यह धारणा बनी हुई है कि किसी भी प्रकार का सांप हो यदि उसने किसी व्यक्ति को काटा है तो फिर उस आदमी कै बचना बहुत ही ज्यादा मुश्किल होता है। दरअसल लोग समझते है कि सारे सांप बहुत ही जहरीले होते है। जबकि ऐसा नहीं है। भारत में पाए जाने वाले तकरीबन छ सौ प्रकार के सांपों में महज कुछ ही किस्म के सांप ऐसे होते है जो जहरीले होते है । कई लोग तो सांप के जहर की बजाय डर से ही मर जाते है। लोगों को सांप के काटते ही दिल का दौरा पड़ जाता है। ऐसे में साँप काटने पर पीड़ित व्यक्ति को सबसे पहले सीधा लिटा देना चाहिए और उसे ढ़ाढ़स बंधाना चाहिए, जिससे वह शान्त रह सके। इसी बीच पीड़ित व्यक्ति को अस्पताल ले जाने की व्यवस्था करनी चाहिए। इसमें एक पल की भी देरी भी पीड़ित व्यक्ति के लिए घातक हो सकता है।

अक्सर यह कहा जाता है कि साँप का जहर दिल और मस्तिष्क तक पहुँचने या पूरे शरीर तक फैलने में तकरीबन तीन से चार घंटे का समय लेता है। ऐसे में यदि आप सूझबूझ से काम करोगे औऱ आप कुछ जानकारी रखते हो तो इन उपायों द्वारा आप सांप के जहर को कम कर सकते हो –

मरीज को 100 एम.एल. (लगभग आधा कप) घी खिलाकर उल्टी करवाने की कोशिश करें, अगर उल्टी न हो तो दस-पंद्रह के बाद गुनगुना पानी पिलाकर उल्टी करवायें, इससे विष के निकल जाने या असर के कम होने की संभावना होती है।

तुअर दाल का जड़ पीसकर रोगी को खिलाने से भी जहर का असर कम होता है।
लहसुन को पीसकर पेस्ट बना लें और सर्पदंश वाले जगह पर लगायें या लहसुन के पेस्ट में शहद मिलाकर खिलाने या चटवाने से इन्फेक्शन कम हो जाता है।

loading...

Post a Comment

0 Comments

Adblock Detected

Like this blog? Keep us running by whitelisting this blog in your ad blocker

Thank you

×
Get the latest article updates from this site via email for free!