Space for advertisement

कभी अभिनेत्री तब्बू की साड़ियां प्रेस किया करते थे निर्देशक रोहित शेट्टी, ३५ रूपये से ३०० करोड़ तक ऐसे तय किया सफर

loading...
कभी अभिनेत्री तब्बू की साड़ियां प्रेस किया करते थे निर्देशक रोहित शेट्टी, ३५ रूपये से ३०० करोड़ तक ऐसे तय किया सफर - अपनी हर फिल्म में गाड़ियों का सुपर एक्शन सीन दिखाने वाले रोहित शेट्टी को बॉलीवुड में कॉमेडी एक्शन फिल्मों के बेहतरीन निर्देशकों में से एक माना जाता है। आज सफलता के मुकाम पर पहुंचे रोहित ने अपनी जिंदगी में बहुत संघर्ष देखा है। संघर्ष के दिनों में महज ३५ रुपये कमाने वाले रोहित की फ़िल्में आज करीब ३०० करोड़ कमा लेती है।


Biography१४ मार्च १९७३ के दिन मुंबई में जन्मे रोहित शेट्टी के पिता मधु बी शेट्टी जिन्हें बॉलीवुड इंडस्ट्री में फाइटर शेट्टी के नाम से जाना जाता है। मधु शेट्टी ने अमिताभ बच्चन की फ़िल्में 'डॉन' और 'दीवार' में एक्शन निर्देशन किया है। इसके अलावा कई फिल्मों में इन्होंने खुद खलनायक की भूमिका भी की है। रोहित शेट्टी की मां का नाम रत्ना है, जो फिल्मों में एक्स्ट्रा और जूनियर आर्टिस्ट का काम कर चुकी है। रोहित शेट्टी के पिता की पहली शादी से चार बच्चे थे और दूसरी पत्नी रत्ना शेट्टी से रोहित की तीन बहनें भी थी।



पिता मधु शेट्टी उस समय अच्छी-खासी कमाई किया करते थे। रोहित शेट्टी उस समय मुंबई के सांताक्रूज़ इलाके में रहा करते थे और कलीना के 'सेंट मेर्री हाई स्कूल' में अपनी पढाई किया करते थे। जब रोहित बहुत छोटे थे तब पिता मधु शेट्टी का निधन हो गया। पिता परिवार के लिए कुछ भी छोड़कर नहीं गए थे तो परिवार को पालने के लिए उनकी मां को फिल्म इंडस्ट्री में जूनियर आर्टिस्ट के तौर पर काम करना पड़ा था।

परिवार की हालत इतनी खराब हो गयी थी कि उनका घर तक बिक गया। जिसके बाद उन्हें सांताक्रूज़ से दहिसर इलाके में उनकी नानी के घर आकर रहना पड़ा। स्कूल के लिए दहिसर से सांताक्रूज़ तक रोहित शेट्टी को करीब डेढ़ घंटे का सफर करके जाना पड़ता था। दसवीं कक्षा तक आते आते हालात इतने ख़राब हो चुके थे कि उन्हें अब पढ़ाई से ज्यादा कमाई की जरुरत पड़ने लगी थी।

रोहित शेट्टी की तीन बहनों में से एक चंदा उन दिनों निर्देशक राहुल रवैल के साथ सहायक निर्देशक के तौर पर काम किया करती थी। मशहूर निर्देशक कुक्कू कोहली उन दिनों निर्देशक राहुल रवैल से मिलने आया करते थे। बहन चंदा ने रोहित शेट्टी के बारे में कुक्कू कोहली से बात की, मगर सिर्फ १५ साल की उम्र होने के कारण कुक्कू कोहली ने नज़रअंदाज़ कर दिया। करीब डेढ़ साल बाद कुक्कू कोहली ने रोहित शेट्टी को काम दिया और वो भी सिर्फ आने जाने के खर्चे पर उन्हें काम पर बुलाया गया। मजह ३५ रुपये रोजाना दिए जाने वाले खर्चे पर रोहित शेट्टी ने काम करना शुरू किया।

उस समय कुक्कू कोहली जो फिल्म बना रहे थे उस फिल्म का नाम था फूल और कांटे, जो अजय देवगन की पहली फिल्म थी। उस समय रोहित शेट्टी मलाड में आकर किराए के मकान में रहने लगे थे। हालात ऐसे थे कि रोहित भाड़ा खर्च के ये ३५ रुपये बचाने के लिए दो घंटे पैदल चलकर मलाड से अंधेरी के नटराज स्टूडियों तक वो पैदल जाया करते थे।



एक इंटरव्यू के दौरान रोहित शेट्टी ने बताया था कि उन्होंने साल १९९५ में आयी फिल्म 'हकीकत' की अभिनेत्री तब्बू की साड़ियों को प्रेस करने का काम भी किया है और इतना ही नहीं वो अभिनेत्री काजोल के स्पॉटबॉय भी रह चुके है। बाद में रोहित ने इन्हीं अभिनेत्रियों के साथ फ़िल्में भी बनाई। फिल्म 'गोलमाल अगेन' में अभिनेत्री तब्बू थी तो फिल्म 'दिलवाले' में काजोल इनकी फिल्म की अभिनेत्री थी।

एक वक्त ऐसा भी आया कि जब रोहित शेट्टी की मां को सदी के महानायक अमिताभ बच्चन के पास मदद मांगने के लिए गयी थी। क्यूंकि अमिताभ बच्चन और रोहित के पिता मधु शेट्टी एक समय अच्छे दोस्त हुआ करते थे, इसलिए बच्चन साहब ने उस समय उनके परिवार की माली तौर पर मदद की थी। इसके बाद रोहित शेट्टी को अक्षय कुमार और अजय देवगन की फिल्म 'सुहाग' में सहायक निर्देशक का काम मिला। फिर फिल्म 'हकीकत', 'प्यार तो होना ही था', 'हिन्दुस्तान की कसम' और 'राजू चाचा', इन फिल्मों के लिए भी रोहित ने सहायक निर्देशक के तौर पर काम किया।

इन फिल्मों के दौरान रोहित शेट्टी को अपने बड़े भाई के रूप में अजय देवगन का साथ भी मिला। चूंकि अजय देवगन के पिता वीरू देवगन और रोहित शेट्टी के पिता मधु शेट्टी एक दूसरे को पहले से जानते थे, इसीलिए रोहित और अजय की भी अच्छी दोस्ती हो गयी। रोहित शेट्टी, अजय देवगन को अपने बड़े भाई का दर्जा देते थे और उनके साथ कई फिल्मों में काम भी कर चुके थे।



जब रोहित ने निर्देशक बनने की बात सोची तो ये तय कर चुके थे कि अगर अजय देवगन उनकी फिल्म में काम करेंगे तो ही वो फिल्म का निर्देशन करेंगे। वो दिन आ ही गया और फिल्म 'जमीन' के लिए अजय देवगन के साथ काम शुरू किया, जिसमें अभिषेक बच्चन और बिपाशा बासु भी थे।

फिल्म बनी और रिलीज़ भी हुई मगर बॉक्सऑफिस पर कुछ ख़ास नहीं कर पायी। रोहित शेट्टी के लिए एक बार फिर मुसीबत बढ़ गयी थी। इस इंडस्ट्री में कोई असफल हो जाए तो लोग उनके साथ काम नहीं करते। ऐसे में जब रोहित शेट्टी एक ऑफिस में बैठे थे तब उनके पास अभिनेता और लेखक नीरज वोरा एक कहानी लेकर आये जो कि एक कॉमेडी फिल्म थी। रोहित उस समय ये समझ नहीं पा रहे थे कि एक एक्शन फ़िल्में बनाने वाला निर्देशक के कॉमेडी फिल्म कैसे बना पायेगा।

रोहित इस फिल्म को करने के लिए राजी नहीं थे मगर नीरज वोरा ने उन्हें विश्वास दिलाते हुए कहा कि 'तुम ये फिल्म कर सकते हो।' और उन्हीं के कहने पर रोहित शेट्टी ने ये फिल्म हाथ में ली। एक बार फिर रोहित शेट्टी का साथ दिया अजय देवगन ने, जिन्होंने इस फिल्म में काम करने के लिए हां कर दी, जिसका नाम था 'गोलमाल'।

फिल्म बनी और जबरदस्त हिट रही। साल २०१० तक तो इस फिल्म के और दो सीरीज भी बन गयी, जो सफल भी रही। इसके बाद रोहित ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। 'बोल बच्चन', 'चेन्नई एक्सप्रेस', 'गोलमाल ३', 'सिंघम', 'सिंघम रिटर्न', 'दिलवाले', 'गोलमाल अगेन' और 'सिम्बा' जैसी सफल फ़िल्में बनाई है।

अगर यहां बात करें अजय देवगन और रोहित शेट्टी की दोस्ती के बारे में तो रोहित के मुताबिक वो अजय को दोस्त से ज्यादा अपने बड़े भाई का दर्जा देते है। यहां तक कि रोहित के बेटे ईशान का नाम भी अजय देवगन ने ही रखा है। रोहित शेट्टी ने अब तक १४ फ़िल्में बनाई है, जिनमें से १० फिल्मों में अजय देवगन ही फिल्म के लीड एक्टर रहे है।


दो फिल्मों 'सिम्बा' और 'सूर्यवंशी' में अजय देवगन ने स्पेशल रोल किया है और बाकी की दो फिल्मों 'चेन्नई एक्सप्रेस' और 'दिलवाले' में शाहरुख़ खान ने उनके साथ काम किया है। रोहित के मुताबिक अजय देवगन को ही अपना पूरा करियर समर्पित करते है और कहते है कि अगर अजय देवगन उन पर इतना विश्वास नहीं करते तो शायद वो इस मुकाम पर नहीं पहुंच पाते।

दोस्तों, आपके मुताबिक रोहित शेट्टी कैसे निर्देशक है? कृपया अपनी राय कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर बताइयेगा और जानकारी अच्छी लगी हो तो कृपया इसे लाइक और शेयर जरूर कीजियेगा।...
loading...

Post a Comment

0 Comments

Adblock Detected

Like this blog? Keep us running by whitelisting this blog in your ad blocker

Thank you

×
Get the latest article updates from this site via email for free!