Space for advertisement

Fake News प्रसारित करने पर Aaj Tak पर ठोका 1 लाख का जुर्माना, ज़ी टीवी, आज तक, इंडिया टीवी को माफी मांगने का आदेश

loading...
अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की आ#त्मह#त्या के बाद से ही कई लोग इस मामले को लेकर अपनी रोटियां सेकने में लगे हुए थे. एक तरफ मीडिया ने भी सुशांत मामले में ह#त्या का दावा किया और फिर इस मामले में ड्र’ग्स एं’गल की एंट्री भी हुई. इसी बीच ड्र’ग्स मामले में अभिनेत्री रिया चक्रवती की गिरफ्तारी हो गई लेकिन अब रिया को हाईकोर्ट से जमानत मिल चुकी हैं जिससे गोदी मीडिया स’द’मे में हैं.

वहीं एम्स ने भी अपनी रिपोर्ट में साफ कर दिया हैं कि सुशांत सिंह की मौ#त की वजह गला घोटना या जहर देना नहीं था, उनकी मौ#त आ#त्मह#त्या करने के चलते हुई हैं. लेकिन इस मामले को लेकर मीडिया ने खूब ह’ल्ला क’टा और उस व्यक्ति का फायदा उठाने का प्रयास किया जो अब इस दुनिया में ही नहीं रहा.



इसी को लेकर अब गोदी मीडिया को एक और बड़ा झटका लगा हैं, दरअसल एनबीएसए ने कई चैनलों पर सुशांत के मामले में झू’ठ फ़ैलाने के चलते जुर्माना लगाया है और कुछ चैनलों से मांफी मांगने के लिए भी कहा हैं. इस खबर को लेकर पढ़ते हैं अपूर्व भारद्वाज की कलम से एक व्यं’ग्या’त्म’क लेख-


सुशांत मामले में, एनबीएसए ने कुछ चैनलों पर जुर्माना ठोंका.

रिया के जेल से छूटते ही औऱ सुशांत की मौ#त को एम्स द्वारा आ#त्मह#त्या बताने के बाद गोदी मीडिया को एक औऱ झटका मिला है. इलेक्ट्रॉनिक मीडिया को रे’ग्युलर करने वाली संस्था NBSA ने न्यूज़ चैनल आजतक को फर्जी ट्वीट करने का दोषी पाया है औऱ उसपर 1 लाख का जुर्माना लगाया गया हैं,

आजतक, जी टीवी, न्यूज 24 और इंडिंया टीवी को बिना शर्त माफी मांगने औऱ उसको अपने चैनल पर लगातार दिखाने का आदेश दिया गया है. न्यूज नेशन और एबीपी को भी क’ड़ी चेता’व’नी दी गई है. दीपक चौरसिया वाले न्यूज नेशन चैनल ने तो बिना शर्त माफी भी मांग ली है.

इस आदेश में सुशान्त की मौ#त के सनसनीखेज कवरेज पर घो’र आ’प’त्ति दर्ज की गई है. इसे घिनौ’ना, श’र्मनाक, असं’वेद’न#शील, मानव-वि’रोधी, अव्य’वसा’यिक और सनस’नीखे’ज बताया गया है.


अर्नब गोस्वामी के चैनल पर कोई कार्यवा’ही इसलिए नही की गई है. ऐसा इसलिए हुआ हैं क्योंकि वो इस संस्था का मेंम्बर नही है. उस पर रिया द्वारा कोर्ट में मुक’दमा चलेगा और NBSA इसमें रिया का पूरा सहयोग करेगा. NBSA इस फैसले से इन न्यूज़ चेनलों को सबक मिलेगा. आज इस फैसले से सत्य की जीत हुई है और गोदी मीडिया के झूठ की हार.

अपूर्व भारद्वाज (फेसबुक वॉल से साभार)
loading...

Post a Comment

0 Comments

Adblock Detected

Like this blog? Keep us running by whitelisting this blog in your ad blocker

Thank you

×
Get the latest article updates from this site via email for free!