Space for advertisement

दोस्त की बेटी को अगवा करके मंगवाई भीख, पापा का नाम लेती तो करता ओर भी घिनौना काम .>



गाजियाबाद के विजयनगर थानाक्षेत्र में भीख मंगवाने के लिए दोस्त की पांच साल की मासूम बेटी को अगवा करने का मामला सामने आया है। पुलिस ने एक माह बाद मासूम को सकुशल बरामद करते हुए अपहरणकर्ता दीन मोहम्मद निवासी नेकपुर थाना मुरादनगर को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस के मुताबिक दिव्यांग दीन मोहम्मद विभिन्न स्थानों पर भीख मांगता है। इस बीच उसकी नजर विजयनगर थानाक्षेत्र की रोजी कॉलोनी निवासी अपने दोस्त छोटू खां की मासूम बेटी पर पड़ी। 28 नवंबर को वह उसे ट्राई साइकिल पर घुमाने के बहाने अगवा कर ले गया था।

सीओ प्रथम अभय कुमार मिश्र ने बताया कि रोजी कॉलोनी निवासी छोटू खां ने गत 28 नवंबर को अपनी पांच साल की बेटी के संदिग्ध हालात में लापता होने की सूचना दी थी। अपहरण का शक जाहिर करते हुए उसने रिपोर्ट दर्ज कराई थी। बच्ची की बरामदगी के लिए चार टीमें गठित की गई थीं।

सीसीटीवी कैमरे खंगालने पर एक दिव्यांग अपहृत बच्ची को अपनी ट्राई साइकिल में ले जाता हुआ कैद मिला। करीब एक माह की मशक्कत के दौरान पुलिस ने आरोपी की पहचान की तो वह मुरादनगर के गांव नेकपुर निवासी दीन मोहम्मद निकला। शुक्रवार को पुलिस ने तिगरी गोल चक्कर से आरोपी दीन मोहम्मद को गिरफ्तार कर बच्ची को बरामद कर लिया। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि उसने भीख मंगवाने के लिए बच्ची का अपहरण किया था। पकड़े जाने के दौरान भी वह बच्ची से भीख मंगवा रहा था।

हरिद्वार, कलियर शरीफ समेत कई स्थानों पर मंगवाई भीख
सीओ के मुताबिक बच्ची की तलाश में पुलिस टीमों ने हरिद्वार, रुड़की स्थित कलियर शरीफ की दरगाह, मुजफ्फरनगर, मेरठ, देहरादून, ऋषिकेश, दिल्ली की जामा मस्जिद, अक्षरधाम मंदिर और उन सभी पर्यटक स्थलों पर खाक छानी।

हरिद्वार व कलियर शरीफ समेत कई स्थानों पर बच्ची की फोटो दिखाने पर पता चला कि एक दिव्यांग उससे भीख मंगवा रहा था। इसके बाद पुलिस ने आरोपी की तलाश और भी तेज कर दी। भीड़भाड़ वाले इलाकों, बाजारों, रेलवे स्टेशन और बस अड्डों आदि पर बच्ची की फोटो के साथ पोस्टर चस्पा किए।

पोस्टर देखकर स्थानीय व्यक्ति ने दी सूचना
सीओ ने बताया कि तिगरी गोल चक्कर पर पोस्टर लगा देखकर ही शुक्रवार को स्थानीय व्यक्ति ने बच्ची की पहचान की। इसके बाद उसने पुलिस को सूचना की थी। पुलिस ने सूचना देने वाले व्यक्ति से पहले बच्ची का नाम तस्दीक कराया और इसके बाद आननफानन मौके पर पहुंच बच्ची को बरामद कर आरोपी गिरफ्तार कर लिया। सीओ का कहना है कि आरोपी दीन मोहम्मद बच्ची को नोएडा ले जाने वाला था।

पिता के पास जाने की बात पर करता था मारपीट
पुलिस ने बच्ची के परिजनों को थाने बुलाया तो उन्हें देखते ही मासूम बिलखकर रोने लगी। पुलिस का कहना है कि बच्ची जब भी अपने पिता के पास जाने के लिए कहती तो दीन मोहम्मद उसे पीटता था। वह जगह बदल-बदलकर बच्ची से भीख मंगवा रहा था। सीओ ने बताया कि आरोपी दीन मोहम्मद बच्ची के पिता का जानकार है। उसका बच्ची के घर पर आना जाना था। बच्ची की मां का निधन हो चुका है। वह अपने पिता और दादी के साथ रहती है।

मोबाइल इस्तेमाल नहीं करता आरोपी
पुलिस का कहना है कि जिस वक्त छोटू खां घर पर नहीं था, उसी दौरान दीन मोहम्मद उसके घर पहुंचा और उसकी बच्ची को बहाने से अपने साथ ले गया। कुछ दूरी पर लगे सीसीटीवी कैमरे में वह कैद हो गया था। पुलिस का कहना है कि दीन मोहम्मद मोबाइल का इस्तेमाल नहीं करता और मसूरी थानाक्षेत्र में किराए का कमरा लेकर रह रहा था। जिसके चलते उसकी तलाश करना चुनौती भरा काम था।
आपको निचे दी गयी ये खबरें भी बहुत ही पसंद आएँगी।
loading...

Post a Comment

0 Comments

Adblock Detected

Like this blog? Keep us running by whitelisting this blog in your ad blocker

Thank you

×
Get the latest article updates from this site via email for free!