Space for advertisement

शमशान में मौत का तांडव, 1 का करने गये थे अंतिम संस्कार, 22 की हो गई मौत



गाजियाबाद. देश की राजधानी दिल्ली से सटे गाजियाबाद में रविवार को बारिश की वजह से श्मशान घाट की छत गिरने से एक बड़ा हादसा हो गया है. हादसे में काफी संख्‍या में लोग श्मशान घाट की छत के नीचे दबे गए. मौके पर जिला प्रशासन के अलावा एनडीआरएफ की टीम भी रेस्क्यू ऑपरेशन में जुटी हुई है. गाजियाबाद जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय ने हादसे में 23 लोगों की मौत की पुष्टि की है. इसके अलावा 15 घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है. इसमें से कई की हालत गंभीर बनी हुई है. जबकि घटना के बाद पूरे इलाके में हड़कंप मच गया. वहीं, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जिला प्रशासन से इस घटना की रिपोर्ट मांगी है.

लाइव अपडेट:

>>एनडीआरएफ की टीम के मुताबिक, श्‍मशान घाट की छत करीब चार महीने पहले बनी थी और इसमें इस्तेमाल किए गए मेटेरियल की क्वालिटी खराब है.

>>पीएम मोदी ने जताया शोक: पीएम मोदी ने हादसे पर दुख जताते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश के मुरादनगर में हुए दुर्भाग्यपूर्ण हादसे की खबर से अत्यंत दुख पहुंचा है. राज्य सरकार राहत और बचाव कार्य में तत्परता से जुटी है. इस दुर्घटना में जान गंवाने वालों के परिजनों के प्रति संवेदना प्रकट करता हूं, साथ ही घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं.

>>उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि घटना दुखद है मेरी संवेदना शोक संतप्त परिजनों के साथ है. इसके अलावा मंडल आयुक्त मेरठ और आईजी रेंज मेरठ को मौके पर जाकर घटना की रिपोर्ट देने का आदेश दिया है. ज़िलाधिकारी और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक गाजियाबाद मौके पर हैं और राहत कार्य कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि हादसे में घायल लोगों का समुचित उपचार सुनिश्चित कराएं. मुख्यमंत्री योगी ने इस हादसे में मृतकों के आश्रितों को 2-2 लाख रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान करने के निर्देश दिए हैं.

>>यूपी की राज्‍यपाल आनंदीबेन पटेल ने भी गाज़ियाबाद के मुरादनगर में शमशान घाट की छत गिरने से हुई कई लोगों की मौत पर गहरी शोक संवेदना प्रकट की है. रविवार को राजभवन से जारी विज्ञप्ति के अनुसार, राज्यपाल पटेल ने मुरादनगर में शमशान घाट की छत गिरने के हादसे में हुई अनेक लोगों की मृत्यु पर शोक जताते हुए, दिवंगत आत्माओं की शांति की कामना की है और शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदना प्रकट की है.

>>यही नहीं, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी इस घटना पर दुख व्‍यक्‍त किया है. उन्‍होंने कहा, ‘ मुरादनगर, गाजियाबाद स्थित श्मशान में छत गिरने की घटना अत्यन्त दुखद है. मृतकों के परिवार जन को मेरी शोक संवेदनाएं! मैं प्रार्थना करता हूं कि इस दुर्घटना में आहत लोग शीघ्र स्वस्थ हों. स्थानीय प्रशासन राहत और सहायता हेतु कार्यरत है.

>>इस घटना को लेकर अनीता सी मेश्राम (डिविजनल कमिश्नर, मेरठ) ने कहा कि मुरादनगर में शेड गिरने से इसमें फंसे 43 लोगों को निकाला गया है. अब तक 23 लोगों की मौत को चुकी है और बाकी लोगों का इलाज़ अस्पताल में चल रहा है. दोषियों के खिलाफ कठोर से कठोर कार्रवाई की जाएगी.

>>गाजियाबाद (ग्रामीण) के पुलिस अधीक्षक इराज राजा ने कहा कि इस घटना के कई घंटे बाद भी और लोगों की तलाश में बचावकर्मी मलबा छान रहे हैं.

>>सूत्रों के मुताबिक, श्‍मशान घाट की छत करीब चार महीने पहले बनी थी. यही नहीं, लोगों का आरोप है कि गैलरी बनाने में घटिया मटेरियल का इस्तेमाल हुआ था.

>>बताया जा रहा है कि मुरादनगर थाना क्षेत्र के ही डिफेंस कॉलोनी में रहने वाले एक बुजुर्ग व्यक्ति की मौत हो गई थी जिसके बाद अंतिम संस्कार में कई लोग पहुंचे थे. इस दौरान अंतिम संस्कार की प्रक्रिया चल रही थी. उसी दौरान जो लोग अंतिम संस्कार में शामिल होने आए थे वह श्मशान घाट के ही एक लेंटर के नीचे खड़े हुए थे. अचानक लेंटर भरभरा कर गिर गया जिसमें फाफी संख्‍या में लोग दब गए.
आपको निचे दी गयी ये खबरें भी बहुत ही पसंद आएँगी।
loading...

Post a Comment

0 Comments

Adblock Detected

Like this blog? Keep us running by whitelisting this blog in your ad blocker

Thank you

×
Get the latest article updates from this site via email for free!