Space for advertisement

अभी-अभी: वेस्ट यूपी में हाई अलर्ट, सड़कों पर उतरा किसान, लगे जाम ही जाम



मुजफ्फरनगर: उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले में किसान महापंचायत शुरू हो गई है। शहर के राजकीय इंटर कॉलेज के मैदान में भारतीय किसान यूनियन ने महापंचायत के लिए मंच बनाया है। इसमें हिस्सा लेने के लिए बड़ी संख्या में किसान पहुंचे हैं। महापंचायत को लेकर उत्तर प्रदेश की पुलिस हाई अलर्ट पर है। सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए हैं। किसी भी प्रकार की स्थिति से निपटने के लिए प्रशासन ने पूरी तैयारी कर ली है।

किसान ट्रैक्टर परेड के दौरान गणतंत्र दिवस के दिन दिल्ली में हुई हिंसा के बाद भारतीय किसान यूनियन ने आगे की रणनीति बनाने के लिए यह महापंचायत बुलाई है। नरेश टिकैत की अपील के बाद से ही बड़ी संख्या में किसानों का जत्था यहाां पहुंचने लगा था। ट्रैक्टर पर भारत का तिरंगा और भाकियू का झंडा लगाए किसान राजकीय इंटर कॉलेज के मैदान पहुंचे।

मुजफ्फरनगर में किसान महापंचायत शुरू
कृषि कानूनों के खिलाफ उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में किसान महापंचायत शुरू हो गई है। इसमें बड़ी संख्या में किसान हिस्सा ले रहे हैं। किसान आंदोलन के लिए आगे की रणनीति पर इस महापंचायत में चर्चा होने की संभावना है।

किसान परेड जैसा नजारा
मुजफ्फरनगर की सड़कों पर ट्रैक्टर परेड का नजारा दिखाई दे रहा है। भाकियू का झंडा और राष्ट्रीय ध्वज लगा कर किसान पहुंच रहे हैं। पंचायत स्थल पर करीब तीन हजार किसानों की भीड़।

पुलिस बल तैनात
राजकीय इंटर कॉलेज के मैदान पर भी भारी संख्या में पुलिस बल तैनात है। कानून व्यवस्था से खिलवाड़ पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

महापंचायत का मंच तैयार
राजकीय इंटर कॉलेज के मैदान पर भारतीय किसान यूनियन की महापंचायत का मंच तैयार हुआ 11:00 बजे का समय होने के बावजूद मैदान पर मंच तैयार करने वाले करीब एक दर्जन कार्यकर्ताओं के अलावा अभी तक कोई नहीं पहुंचा है

न्यायालय में नो वर्क र्घोषित
किसान महापंचायत को देखते हुए वाद कार्यों को होने वाली परेशानी के मद्देनजर डिस्ट्रिक्ट बार एसोसिएशन ने न्यायालय में नो वर्क घाेषित किया।

भारी पुलिस बल तैनात
राजकीय इंटर कॉलेज के मैदान से पूर्व महावीर चौक को भारी पुलिस बल ने घेरा। राजकीय इंटर कॉलेज के मैदान पर भारतीय किसान यूनियन का महापंचायत का मंच बनाया जा रहा है।

जुटने लगी किसानों की भीड़
एसडीएम और सीओ किसानों से बात करने पहुंचे पंचायत स्थल। किसानों को मनाने के प्रयास चल रहे हैं। अभी पंचायत में लोगों को आने दिया जाएगा या रोका जाएगा, इस पर निर्णय नरेश टिकैत से वार्ता के बाद ही होगा।

प्रशासन ने की महापंचायत ना करने की अपील
मुजफ्फरनगर प्रशासन ने किसान महापंचायत स्थगित करने की अपील की। स्थानीय प्रशासन नरेश टिकैत से महापंचायत ना करने की अपील की है। पुलिस ने दिल्ली की ओर जाने वाली सभी सीमाएं सील कर दी है। वहीं दूसरी ओर बिजनौर में किसानों ने सड़क पर ही रात बिता कर अपना विरोध दर्ज कराया।

संयुक्त किसान मोर्चा आज रखेगा उपवास
अलीगढ़ से दिल्ली के चिल्ला व गाजीपुर बॉर्डर पर किसान आंदोलन में शामिल होने गए हुए थे। अब दिल्ली कांड के बाद भाकियू भानू गुट व भारतीय मजदूर संघ के बैनर तले गए किसान वापस आ चुके हैं। टिकैत गुट के जिलाध्यक्ष विमल तोमर ने बताया कि शीर्ष नेतृत्व के फैसले का इंतजार है। संयुक्त किसान मोर्चा ने केंद्रीय संगठन के अनुसार एक दिन के उपवास के लिए शुक्रवार को बैठक बुलाई है।

मुरादाबाद मंडल के किसान बड़ी संख्या में लौटे, कई नेता भूमिगत
मुरादाबाद मंडल के कई किसान नेता और उनके साथ गए किसान 26 जनवरी को ट्रैक्टर परेड के बाद या तो लौट आए हैं या धरने में होने के बाद भी नए सिरे से रणनीति बनाने में जुट गए हैं। कई नेता भूमिगत हो गए हैं। माना जा रहा है कि दिल्ली उपद्रव के बाद सरकार के सख्त तेवर के कारण वे सामने आने से बच रहे हैं। रामपुर के बिलासपुर में बुधवार को उस समय अचानक तनाव की स्थिति बन गई जब बड़ी संख्या में अफसर फोर्स के साथ इलाके के किसानों का नेतृत्व करने वाले नवाबगंज गुरुद्वारा के बाबा अनूप सिंह से मिलने पहुंचे। उनकी गिरफ्तारी की अफवाह पर सैकड़ों की संख्या में सिख समाज के लोग गुरुद्वारे पहुंच गए।

जयंत चौधरी गाजीपुर बॉर्डर पहुंचे
जयंत चौधरी गाजीपुर बॉर्डर पहुंचे, किसान नेता और किसानों से की मुलाकात।

अखिलेश यादव ने राकेश टिकैत को किया फोन
समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने किसान नेता राकेश टिकैत को फोन कर उनका हालचाल जाना है। बातचीत में राकेश टिकैत ने अखिलेश यादव को सेहत का हाल बताया है।
loading...

Post a Comment

0 Comments

Adblock Detected

Like this blog? Keep us running by whitelisting this blog in your ad blocker

Thank you

×
Get the latest article updates from this site via email for free!