Space for advertisement

ट्रकों में भर-भरकर पार होता था सरकारी कोयला! ममता बनर्जी का भतीजा करवाता था…




कोलकाता। सीबीआई की एक टीम रविवार को अचानक तृणमूल कांग्रेस सांसद और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी के घर पहुंची। सीबीआई कोयला चोरी के मामले में अभिषेक की पत्नी रुजिरा नरूला को नोटिस थमाने आई थी। टीम ने उनसे कोयला चोरी मामले की जांच में शामिल होने को कहा है। सीबीआई के नोटिस के बाद पश्चिम बंगाल में राजनीतिक पारा और बढ़ने के आसार हैं और यह ममता बनर्जी की प्रतिक्रिया से भी साफ जाहिर है। ममता ने कहा कि वह ऐसे हथकंडों से डरने वाली नहीं हैं।

नवंबर में दर्ज हुई एफआईआर, मास्टरमाइंड गिरफ्त से बाहर
सीबीआई ने कोयला घोटाले के मामले में नवंबर 2020 में पहली एफआईआर दर्ज की थी। बीते एक हफ्ते के दौरान सीबीआई ने कोयला मामले की जांच तेज की है। शुक्रवार को ही एजेंसी ने पश्चिम बंगाल के चार जिलों में 13 जगहों पर छापेमारी की। कुछ महीने पहले सीबीआई ने इस मामले में बंगाल, झारखंड, बिहार और यूपी में एक ही दिन में 45 ठिकानों पर छापेमारी की थी। कोयला चोरी का मास्टरमाइंड अनूप मांझी उर्फ लाला अभी फरार है। उसके खिलाफ लुकआउट नोटिस भी पहले ही जारी किया जा चुका है।

काजोर और कुनस्तोरिया की खदानों से हुई कोयले की चोरी
सीबीआई ने लाला, ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (ईसीएल) के जनरल मैनेजर अमित कुमार धर और जयेश चंद्र राय, ईसीएल के सिक्योरिटी इंचार्ज तन्मय दास, कुनुस्तोरिया के रीजनल सिक्योरिटी इंस्पेक्टर धनंजय राय और काजोर इलाके के सुरक्षा प्रभारी और एसएसआई देबाशीष मुखर्जी के खिलाफ नवंबर में एफआईआर दर्ज की थी। काजोर और कुनुस्तोरिया इलाकों में ईसीएल की लीज पर ली गई खदानों से अवैध खनन और कोयले की चोरी का आरोप है।

विश्वनीय जानकारी पर CBI ने लिया ऐक्शन, यूं होता था पूरा ‘खेल’
सीबीआई के मुताबिक, उसे अपने विश्वनीय सूत्रों के जरिए इस घोटाले के बारे में पता चला। ईसीएल की लीज वाली खदानों में ईसीएल, सीआईएसएफ और रेलवे के अधिकारियों की मिलीभगत से कोयला चोरी को अंजाम दिया गया। कोयला चोर इतने बेफिक्र थे कि ट्रकों भर-भरकर कोयला पार कर दिया जाता था और महीनों तक इसका पता नहीं चला।

CBI ने जरूरी सवालों के जवाब के लिए अभिषेक की पत्नी को बुलाया
रविवार को जारी नोटिस में सीबीआई ने रुजिरा से कहा है कि वह हरीश मुखर्जी रोड स्थित अपने पते पर मामले से संबंधित कुछ सवालों के जवाब के लिए उपलब्ध रहें। सीबीआई ने अभिषेक की साली मेनका गंभीर को भी दक्षिण कोलकाता स्थित उनके घर नोटिस थमाया है और कहा कि वह सोमवार को जांच में शामिल हों जहां उनसे जांच टीम पूछताछ करेगी।

CBI के नोटिस पर TMC-BJP में शुरू हुई जुबानी जंग
सीबीआई की कार्रवाई पर TMC ने कहा कि चुनाव के दौरान लोग बीजेपी को जवाब देंगे। पार्टी ने कहा, ‘बीजेपी के सभी सहयोगियों ने उसे छोड़ दिया है और अब सीबीआई और ईडी ही उसके एकमात्र वफादार सहयोगी हैं।’ पार्टी ने कहा कि वह डरती नहीं है और अपनी लड़ाई जारी रखेगी। बीजेपी ने आरोप लगाया कि तृणमूल कांग्रेस मामले का राजनीतिकरण करने की कोशिश कर रही है। पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा, ‘अगर किसी ने कुछ गलत किया है तो कानून अपना काम करेगा। जो दोषी हैं, उन्हें दंड मिलना चाहिए। किसी को भी मामले का राजनीतिकरण नहीं करना चाहिए।’
loading...

Post a Comment

0 Comments

Adblock Detected

Like this blog? Keep us running by whitelisting this blog in your ad blocker

Thank you

×
Get the latest article updates from this site via email for free!