Space for advertisement

4 मौके जब भारत ने 1 रन से जीता हारा हुआ वनडे मैच..*



क्रिकेट के खेल में जब तक मैच की आखिरी बॉल न फेंकी जाए तब तक मैच के नतीजे का अनुमान लगाना बेहद कठिन होता हैं. कई बार देखने को मिलता हैं जब अंतिम कुछ ओवरों में प्रत्येक गेंद के साथ मैच का रुख बदलता हैं. आज इस लेख में हम उन 4 रोमांचक मैचों को याद करेंगे जब टीम इंडिया ने वनडे मैच सिर्फ 1 रन से जीता हैं.

1) भारत बनाम साउथ अफ्रीका, जोहान्सबर्ग 2011

भारत और साउथ अफ्रीका के बीच 2011 में पांच मैचों की सीरीज का दूसरा मुकाबला जोहान्सबर्ग में खेला गया. सीरीज का पहला मैच हारने के बाद टीम इंडिया वापसी का इंतजार कर रही थी. मैच में भारत पहले बल्लेबाजी करते हुए खराब शुरुआत के बाद निचलेक्रम के बल्लेबाजों की मदद से 190 का स्कोर बनाया.

लेकिन मैच में इंडियन गेदबाजों ने अपना दम दिखाया. मैच में इंडियन स्पिनरों ने सटीक और किफायती गेदबाजी की और तेज गेदबाजों ने दूसरे छोर से लगातार विकेट झटके, जिसकी मदद से भारत ने मैच 1 रन से जीता. मैच में अफ्रीकी कप्तान ग्रीम स्मिथ ने 77 रन बनाये जबकि भारत की ओर से मुनाफ पटेल ने 29 रन देकर 4 विकेट लिए और मैन ऑफ द मैच जीता.

2) भारत बनाम साउथ अफ्रीका, जयपुर 2010

भारत और साउथ अफ्रीका के बीच 2010 में जयपुर के सवाई मान सिंह स्टेडियम में के एक बेहद रोमांचक मुकाबला देखने को मिला. इस हाई स्कोरिंग मैच में मेजबान भारत ने एक रन से जीत दर्ज की थी. भारत ने मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए 298 रन बनाये थे.

299 रनों के लक्ष्य के जवाब में अफ्रीकी टीम ने मजबूत शुरुआत दी लेकिन मध्यक्रम में इंडियन गेंदबाजों ने मेहमान टीम लगातार झटके दिए. लेकिन अंत में निचलेक्रम के बल्लेबाज डेल स्टेन और वायने पर्नेल ने अपनी बड़ी साझेदारी बनाई लेकिन अंत में भारत की जीत हुई.

3) भारत बनाम श्रीलंका, कोलोंबो 1993

1993 में भारत ने श्रीलंका दौरे की शुरुआत जीत के साथ की. कोलोंबो में खेले गए पहले मुकाबले में मेहमान भारत ने 212 रन बनाये. जिसके जवाब में श्रीलंका के ओपनरों ने अच्छी शुरुआत दी लेकिन मध्यक्रम इसे सही से फिनिश नहीं कर पाए.

मैच में श्रीलंका के स्टार बल्लेबाज अरविन्द डी सिल्वा ने एक बेहद महत्वपूर्ण पारी खेली लेकिन टीम के 161 रनों के स्कोर पर उनके आउट होने के बाद श्रीलंका की पारी आसान लक्ष्य को हासिल करने से चूक गयी.

4) भारत बनाम न्यूजीलैंड, वेलिंगटन 1990

1990 में भारत, न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध त्रिकोणीय सीरीज खेली गयी. सीरीज में भारत तीसरे नंबर पर रही क्योंकि भारत सीरीज में सिर्फ कीवी टीम के विरुद्ध इकलौती जीत मिल पाई. मैच में भारत ने टॉस पहले बल्लेबाजी की और 220 रन बनाये.

221 रनों के लक्ष्य के जवाब में कीवी टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही लेकिन रदरफोर्ड और ग्रेटबैच ने मैच के मध्य में पारी की संभाला. लेकिन आखिरी ओवरों में भारत के गेदबाजों की दमदार वापसी के साथ मैच 1 रन से जीता.
loading...

Post a Comment

0 Comments

Adblock Detected

Like this blog? Keep us running by whitelisting this blog in your ad blocker

Thank you

×
Get the latest article updates from this site via email for free!