Space for advertisement

क्रिकेट इतिहास का वो मैच जब सचिन के आउट होते ही भड़क गया था दंगा, खाली स्टेडियम में हुआ मैच..*



साल 1999 की शुरुआत भारत पाकिस्तान सीरीज से हुई थी, बायलैटरल सीरीज के दौरान चेन्नई में दर्शकों ने पाकिस्तान टीम को काफी सराहा था लेकिन कुछ ही दिन बाद पहली बार आयोजित किए गए एशियन टेस्ट चैंपियनशिप के दौरान दर्शकों ने ऐसा कोहराम मचाया कि मैच का अंत दर्शक विहीन स्टेडियम में हुआ।

सचिन के रन आउट होने पर भड़का था दंगा

टेस्ट चैंपियनशिप के तहत कोलकाता के ईडेन गार्डेन्स में भारत और पाकिस्तान के बीच मुकाबला खेला जा रहा था। पहले चार दिन तक एक लाख लोग मैच देख रहे थे जो पांचवें दिन 65000 से शून्य पर पहुंच गया। दर्शकों का जोश उस वक्त खतरे के निशान से ऊपर चला गया जब सचिन तेंदुलकर अकरम की गेंद पर रन आउट हो गए। भारत को दूसरी पारी में जीत के लिए 279 रनों का लक्ष्य था और एक समय टीम ने 2 विकेट पर 145 रन बना लिए थे। फिर मैदान पर आया वो पल जिससे सबकुछ बदल गया।

अख्तर से हुई टक्कर और सचिन हुए रन आउट

वसीम अकरम की गेंद को सचिन ने डीप मिडविकेट की ओर खेला। गेंद अपनी गति से जा रही थी लेकिन बाउंड्री लाइन से पहले रुक गई। दूसरे खिलाड़ी की जगह फील्डिंग करने आए नदीम खान ने गेंद को उठाया और नॉन स्ट्राइक छोर पर फेंका। इस बीच सचिन दो रन पूरा कर चुके थे और आसानी से तीसरे रन खत्म करने वाले थे। लेकिन सचिन अपना बल्ला क्रीज में रखते उससे पहले बीच में शोएब अख्तर आ गए और उनका बल्ला अख्तर के पांवों के बीच में फंस गया। गेंद सीधे विकेट पर जा लगी, उस वक्त सचिन का बल्ला टक्कर की वजह से हवा में था और थर्ड अंपायर ने उन्हें आउट करार दे दिया।

गलती किसकी सचिन या शोएब

खेल पंडितों की मानें तो मैदान पर ऐसी बातें हो जाया करती हैं। किसी ने भी इसमें किसी खिलाड़ी को गलत नहीं ठहराया। सचिन थ्रो को देख रहे थे और विकेट के करीब आते अख्तर को न देख पाए। दूसरी तरफ अख्तर भी सिर्फ गेंद को कलेक्ट करने विकेट के पास थे। गेंद को विकेट के करीब आते देख वो थोड़ा पीछे गए ताकि गेंद की ऊंचाई को भांप सकें लेकिन इस बीच दोनों की टक्कर हो गई और सचिन महज 9 रन बनाकर पवेलियन लौट गए थे।

दो बार दर्शकों ने मचाया उत्पात

सचिन के आउट होते दर्शकों ने पाकिस्तान टीम और शोएब अख्तर को अपने निशान पर लिया। अगले ओवर में अख्तर बाउंड्री लाइन पर फील्डिंग करने गए तो उन पर बोतलों की बरसात हो गई। दर्शक बेकाबू होते दिख रहे थे ऐसे में अंपायरों ने दूसरा सत्र जल्द खत्म कर दिया।

बाद में सचिन और उस वक्त के आईसीसी हेड जगमोहन डालमिया ने दर्शकों से शांत बनाए रखने की अपील की। एक घंटे से अधिक का खेल बर्बाद हो चुका था। चौथे दिन का खेल खत्म होने पर भारत के 6 विकेट 214 रनों पर गिर गए थे। पांचवें दिन सबकी उम्मीदें प्रिंस ऑफ कोलकाता सौरव गांगुली से थी लेकिन उनके और नयन मोंगिया के जल्द आउट होते ही दर्शकों में एक फिर नाराजगी बढ़ने लगी। 231 के स्कोर पर जवागल श्रीनाथ के आउट होने के बाद एक बार फिर दर्शकों ने जमकर उत्पात मचाया। अब उन्होंने पेपर जलाना शुरू कर दिया, पाकिस्तानी खिलाड़ियों पर पत्थर और फल फेंकने शुरु कर दिए। बढ़ते आक्रोश के बीच तीन घंटे तक खेल रुका रहा। इस दौरान पूलिस ने पूरे स्टेडियम से दर्शकों को बाहर कर दिया। मैच फिर शुरू हुआ एक रन जोड़ने के बाद भारत 46 रन से मुकाबला हार गई।

शोएब अख्तर की दो खतरनाक गेंद

इसी मैच में शोएब अख्तर ने विश्व क्रिकेट में अपनी उपस्थिति दर्ज कराई थी। टीम के दीवार राहुल द्रविड़(24) और सचिन तेंदुलकर(पहली गेंद आउट) उनकी दो खतरनाक इन स्विंग यॉर्कर पर क्लीन बोल्ड हो कर पवेलियन लौटे थे। दर्शक दूसरी पारी में सचिन की बल्लेबाजी देखना चाहते थे लेकिन अख्तर से हुई टक्कर ने उन्हें आग बबूला कर दिया।

दो मैन ऑफ द मैच

इस मुकाबले में दोनों ही टीम की ओर से बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों को मैन ऑफ द मैच दिया गया। भारत की ओर से श्रीनाथ ने मैच में कुल 13 विकेट झटके जिसमें दूसरी पारी के 8 विकेट शामिल हैं। वहीं पाकिस्तान की ओर से सलामी बल्लेबाज सईद अनवर ने दूसरी पारी में 188 रन बनाकर टीम की मैच में वापसी कराई।

संक्षिप्त स्कोर

टॉस – पाकिस्तान, पहले बल्लेबाजी का फैसला
पाकिस्तान पहली पारी – 185 ऑल आउट, मोईन खान 70, श्रीनाथ 46 पर 5
भारत पहली पारी – 223 ऑल आउट, सदगोपन रमेश -79, अख्तर 71 पर 4
पाकिस्तान दूसरी पारी – 316 ऑल आउट, अनवर – 188, श्रीनाथ 86 पर 8
भारत दूसरी पारी – 232 ऑल आउट, लक्ष्मण – 67, अख्तर 47 पर 4
loading...

Post a Comment

0 Comments

Adblock Detected

Like this blog? Keep us running by whitelisting this blog in your ad blocker

Thank you

×
Get the latest article updates from this site via email for free!