Space for advertisement

विराट कोहली की टीम में पूरी नहीं हुई शिवम दुबे की ख्वाहिश



हरफनमौला खिलाड़ी शिवम दुबे (Shivam Dube) ने अपने आईपीएल (IPL) करियर की शुरुआत विराट कोहली (Viart Kohli) की कप्तानी वाली रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (Royal Challengers Bangalore) से की थी. इसी टीम के साथ खेलते हुए वह नजर में आए थे और भारतीय टीम में जगह भी बनाई थी. 2021 से पहले हालांकि बैंगलोर ने उन्हें रिलीज कर दिया था और अब वह राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals) के लिए खेलते हैं. बैंगलोर के साथ खेलते हुए शिवम ने 15 मैचों में सिर्फ 168 रन बनाए. वह हालांकि बैंगलोर के साथ अपने समय को भुला नहीं पाए हैं. उन्होंने कहा है कि वह बैंगलोर में ऊपरी क्रम में बल्लेबाजी कर सकते थे. उनका मानना है कि वह नंबर-4 या पांच पर खेल सकते थे. बैंगलोर ने उन्हें पांच करोड़ में खरीदा था लेकिन वह अपने को मिली रकम को जस्टीफाई नहीं कर सके थे. शिवम ने साथ ही टीम इंडिया में वापसी को लेकर भी अपनी राय रखी है. उन्होंने भारत के लिए एक वनडे और 12 टी20 मैच खेले हैं.

आईपीएल-2021 में राजस्थान से खेलते हुए हालांकि उन्होंने बैंगलोर के मुकाबले बेहतर किया. उन्होंने लीग के 14वें सीजन के स्थगित होने से पहले छह मैचों में 24.16 की औसत से 145 रन बनाए. शिवम ने स्पोर्टकीड़ा से बात करते हुए कहा, “निश्चित तौर पर मैं बैंगलोर में नंबर-4 या पांच पर बल्लेबाजी करना पसंद करता. लेकिन यह कप्तान और टीम प्रबंधन तय करता है वो ये देखते हुए कि टीम में कौनसे बल्लेबाज हैं. मेरा आईपीएल 2020 अच्छा नहीं रहा. नीचे आकर लगातार 2-3 छक्के मारना आसान नहीं रहता और मैं मध्य के ओवरों में भी गेंदबाजी करता था. इससे मुझे फ्रेंचाइजी की जरूरत का पता चला और वह जो चाहते थे उससे मुझे परेशानी नहीं थी. मुझे इस बात की संतुष्टि है कि जब भी मुझे आरसीबी ने गेंदबाजी करने या बल्लेबाजी करने बुलाया मैंने अच्छा किया.”

टीम इंडिया में एक और ऑलराउंडर की जरूरत

शिवम ने राष्ट्रीय टीम में एक अतिरिक्त ऑलराउंडर की जरूरत पर जोर दिया. उन्होंने विदेशी टीमों का उदाहरण दिया. उन्होंने कहा, “आपके पास हार्दिक पंड्या हैं, लेकिन आपको एक और ऑलराउंडर की जरूरत है क्योंकि सीमिंग ऑलराउंडर मिलना काफी मुश्किल होता है. मेरा काम लगातार अच्छा करना और चयनकर्ताओं के दरवाजे पर दस्तक देना है. आप देख सकते हैं कि विदेशी टीमें दो-तीन ऑलराउंडर के साथ खलेती हैं क्योंकि वह हमेशा मैच का रुख पलट सकते हैं. मुझे पूरा भरोसा है कि मैं भविष्य में भारतीय टीम का हिस्सा बनूंगा. ज्यादा ऑलराउंडरों के साथ खेलना भारत के जीतने की संभावना को बढ़ाएगा.”
loading...

Post a Comment

0 Comments

Adblock Detected

Like this blog? Keep us running by whitelisting this blog in your ad blocker

Thank you

×
Get the latest article updates from this site via email for free!