---Third party advertisement---

आप भी बनाना चाहते हैं अपने फेफड़ों को मजबूत, तो प्याज में मिलाकर ये 4 चीजें करें इस्तेमाल…….




फेफड़ों को मजबूत रखने के लिए सबसे जरूरी है कि आप रोजाना एक्सरसाइज और प्राणायाम करे। इसके साथ ही अपनी डाइट में ऐसी चीजें शामिल करे जिसमें अधिक मात्रा में विटामिन्स और मिनरल्स पाए जाते हैं।

हवा में प्रदूषण के साथ -साथ स्मोकिंग की बुरी आदत, किसी ना किसी तरह की एलर्जी, रेस्पिरेटरी डिजीज़ सब मिलकर सांसों संबंधी समस्या का सामना करना पड़ता है। इसलिए लंग्स का ख्याल रखना बहुत जरूरी है, क्योंकि शरीर को चलाने के लिए ऑक्सीजन की जरूरत होती है और लंग्स का काम शरीर में ब्लड के जरिए ऑक्सीजन की सप्लाई करना है। इतना हीं नहीं अगर आपके फेफड़े कमजोर हुए तो आप कोरोना वायरस से संक्रमित होने के चांसेस काफी अधिक बढ़ जाते हैं।

शारीरिक परिश्रम नहीं करने के कारण थोड़ा सा चलने पर ही आपकी सांस फूलने लगती है। अगर ऐसा आपके साथ भी होता है तो समझ लें कि आपका फेफड़े काफी कमजोर हो गए हैं। अगर आपके फेफड़े ठीक ढंग से काम नहीं करेंगे तो आपको अस्थमा, ब्रोंकाइटिस, निमोनिया, टीबी, कैंसर जैसी जानलेवा बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है। वहीं दूसरी ओर कोरोना वायरस जैसी महामारी से बचने के लिए आपके फेफड़ों का मजबूत होना बहुत ही जरूरी हैं क्योंकि यह सीधे आपके लंग्स पर ही अटैक करता है। जिसके कारण आपको सांस लेने में अधिक समस्या होती है। ऐसे में सबसे जरूरी हैं कि आप अपने फेफड़ों को हेल्दी रखे।

फेफड़ों को मजबूत रखने के लिए सबसे जरूरी है कि आप रोजाना एक्सरसाइज और प्राणायाम करे। इसके साथ ही अपनी डाइट में ऐसी चीजें शामिल करे जिसमें अधिक मात्रा में विटामिन्स और मिनरल्स पाए जाते हैं। इसके अलावा लंग्स को मजबूत बनाने के लिए कई तरह के उपाय अपनाते हैं। लेकिन आप चाहे तो इस लेप का इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे आपका फेफड़े तो मबजूत रहेंगे। इसके साथ ही लंग्स संबंधी कई अन्य बीमारियां जैसे निमोनिया, फेफड़ों के पड़े बड़ी-बड़ी गांठों को कम करने में मदद करेगा। इसके साथ ही लंग्स के अंदर जमे कफ को हटाता है।

फेफड़ों को मजबूत बनाएंगा ये आयुर्वेदिक लेप
सामग्री

5-6 लहसुन
थोड़ी सी अदरक
आधा प्य़ाज
आधा चम्मच कच्ची पीसी हल्दी या पाउडर
कुछ बूंद दिव्यधारा

ऐसे लगाएं फेफड़ों के लिए आयुर्वेदिक लेप

सबसे पहले कच्ची हल्दी, लहसुन, अदरक, प्याज को ग्राइंडर में डालकर गाढ़ा पेस्ट बना लें। इसके बाद इसमें कुछ बूंद दिव्यधारा डालकर कर अच्छी तरह से मिला लें। अब इसे अपने छाती पर अच्छी तरह से लगा लें। लगाने के बाद एक कॉटन कपड़े को ठीक ढंग से लपेट लें। इसके बाद इसके ऊपर कोई गर्म कपड़ा या शॉ़ल बांध लें। निचे दी गयी ये खबरें भी जरूर पढ़ें

Post a Comment

0 Comments