---Third party advertisement---

दरभंगा-समस्तीपुर रेल खंड पर पुल पर चढ़ा पानी, ट्रेन परिचालन हुआ ठप, गाड़ियों का बदला रूट

बूढ़ी गंडक नदी का जलस्तर शहर में लगातार बढ़ता जा रहा है। वहीं उसकी बढ़ने की प्रवृत्ति भी बनी हुई है। इसका नतीजा है कि शनिवार को नदी के बढ़े हुए जलस्तर रेलवे पुल को छूते हुए रेल के गार्डर तक पहुंच गया। बताया जाता है कि बूढ़ी गंडक नदी का जलस्तर खतरे के निशान से 1.91 मीटर ऊपर 47.64 तक पहुंच चुका है। यहां उसकी बढ़ने की प्रवृत्ति जारी है। इसके कारण रेलवे के पुराने पुल पर पानी चढ़ गया है। वहीं खतरे को देखते हुए रेलवे प्रशासन की ओर से सुबह 10:20 के बाद से पुराने पुल के रास्ते रेल का परिचालन बंद कर दिया है। परिचालन बंद होने के बाद रेलवे ने इस रूट की छह गाड़ियां रद्द कर दी हैं। वहीं 7 गाड़ियों को कम दूरी पर रोका गया है। जबकि 7 गाड़ियों को कम दूरी से ही खाेलने का निर्देश दिया गया है। साथ ही 5 ट्रेनों का रूट बदला गया है। इससे नदी का जलस्तर घटने तक यात्रियों को इससे खासा परेशानी उठानी पड़ सकती है। ट्रेनों का रद्दीकरण, आंशिक समापन व मार्ग परिवर्तन केवल शनिवार के लिए लिए ही प्रभावी था।

उच्चतम जलस्तर से 1.2 मीटर दूर रह गया है बूढ़ी गंडक नदी का जलस्तर
समस्तीपुर| जिला में बूढ़ी गंडक नदी का उफान अपने चरम पर है। वहीं नेपाल के साथ पूर्वी व पश्चिमी चंपारण में हो रही मानसूनी बारिश के कारण यह नदी लगातार अपनी बढ़ने की प्रवृति को बनाए हुए है। इसका कारण है कि बीते वर्ष की तुलना में नदी ने न सिर्फ 15 दिन पूर्व खतरे के निशान को पार किया है बल्कि अब यह अपने उच्च जलस्तर तक पहुंचने वाली है। बताया जाता है कि बूढ़ी गंडक नदी अपने उच्च जलस्तर 48.83 से महज 1.2 मीटर दूर है। जहां इसके एक सप्ताह के अंदर पहुंचने की संभावना जताई जा रही है। इसके बाद से यह नदी जिला में खतरनाक रूप धारण कर सकती है। इससे शहर को भी खतरा हो सकता है। वहीं इसकी लगातार बढ़ने की प्रवृति चिंता का विषय बनी हुई है। नदी के बढ़े जलस्तर के कारण यहां के बीसफुटिया व नदी की पेटी में 200 से ज्यादा अब तक पानी की चपेट में हैं। इसमें से दर्जनों पूरी तरह डूब चुके हैं।

पानी घटने के बाद चलेंगी ट्रेनें : बूढ़ी गंडक का जलस्तर बढ़ने से समस्तीपुर-दरभंगा रेलखंड के पुराने पुल के गार्डर तक पानी चढ़ गया है। इसके कारण यहां से रेल परिचालन बंद किया गया है। इसको लेकर 5 ट्रेनें रद्द, 7 को कम दूरी तक व कम दूरी से खोलने व 5 का रूट बदला गया। -सरस्वती चन्द्र, सीनियर डीसीएम, रेल मंडल, समस्तीपुर

पांच ट्रेनों का बदला गया परिचालन रूट : सीतामढ़ी-मुजफ्फरपुर-समस्तीपुर के रास्ते चली 05234 दरभंगा-कोलकाता, सीतामढ़ी-नरकटियागंज-गोरखपुर के रास्ते चली 02569 दरभंगा-नई दिल्ली, सीतामढ़ी-नरकटियागंज-गोरखपुर के रास्ते चली 02565 दरभंगा-नई दिल्ली, सीतामढ़ी-मुजफ्फरपुर-समस्तीपुर के रास्ते चली 07006 रक्सौल-हैदराबाद, सीतामढ़ी-मुजफ्फरपुर-समस्तीपुर के रास्ते चली 07025 रक्सौल-सिकंदराबाद

ये ट्रेनें हुई रद्द : 03225 जयनगर-राजेंद्र नगर, 03226 राजेंद्र नगर-जयनगर, 05553 भागलपुर-जयनगर, 05554 जयनगर-भागलपुर, 05284 जयनगर-मनियारी, 05283 मनियारी-जयनगर

सीतामढ़ी-मुजफ्फरपुर-समस्तीपुर के रास्ते चली 05234 दरभंगा-कोलकाता, रक्सौल-हैदराबाद व अन्य ट्रेनें, मगरदही स्थित बूढ़ी गंडक नदी में बने पुराने रेल पुल के गर्डर व पिलर पर चढ़ा पानी।रेल प्रशासन ने शनिवार सुबह 10:20 बजे के बाद से रोकी ट्रेन सेवा नीचे दी गई मज़ेदार ख़बरें भी पढ़ें।

Punjab, Ludhiana, Jalandhar, Amritsar, Patiala, Sangrur, Gurdaspur, Pathankot, Hoshiarpur, Tarn Taran, Firozpur, Fatehgarh Sahib, Faridkot, Moga, Bathinda, Rupnagar, Kapurthala, Badnala, Ambala,Uttar Pradesh, Agra, Bareilly, Banaras, Kashi, Lucknow, Moradabad, Kanpur, Varanasi, Gorakhpur, Bihar, Muzaffarpur, East Champaran, Kanpur, Darbhanga, Samastipur, Nalanda, Patna, Muzaffarpur, Jehanabad, Patna, Nalanda, Araria, Arwal, Aurangabad, Katihar, Kishanganj, Kaimur, Khagaria, Gaya, Gopalganj, Jamui, Jehanabad, Nawada, West Champaran, Purnia, East Champaran, Buxar, Banka, Begusarai, Bhagalpur, Bhojpur, Madhubani, Madhepura, Munger, Rohtas, Lakhisarai, Vaishali, Sheohar, Sheikhpura, Samastipur, Saharsa, Saran, Sitamarhi, Siwan, Supaul,Gujarat, Ahmedabad, Vadodara, Surat, Rajkot, Vadodara, Junagadh, Anand, Jamnagar, Gir Somnath, Mehsana, Kutch, Sabarkantha, Amreli, Kheda, Rajkot, Bhavnagar, Aravalli, Dahod, Banaskantha, Gandhinagar, Bhavnagar, Jamnagar, Valsad, Bharuch , Mahisagar, Patan, Gandhinagar, Navsari, Porbandar, Narmada, Surendranagar, Chhota Udaipur, Tapi, Morbi, Botad, Dang, Rajasthan, Jaipur, Alwar, Udaipur, Kota, Jodhpur, Jaisalmer, Sikar, Jhunjhunu, Sri Ganganagar, Barmer, Hanumangarh, Ajmer, Pali, Bharatpur, Bikaner, Churu, Chittorgarh, Rajsamand, Nagaur, Bhilwara, Tonk, Dausa, Dungarpur, Jhalawar, Banswara, Pratapgarh, Sirohi, Bundi, Baran, Sawai Madhopur, Karauli, Dholpur, Jalore,Haryana, Gurugram, Faridabad, Sonipat, Hisar, Ambala, Karnal, Panipat, Rohtak, Rewari, Panchkula, Kurukshetra, Yamunanagar, Sirsa, Mahendragarh, Bhiwani, Jhajjar, Palwal, Fatehabad, Kaithal, Jind, Nuh, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल, #बिहार, #मुजफ्फरपुर, #पूर्वी चंपारण, #कानपुर, #दरभंगा, #समस्तीपुर, #नालंदा, #पटना, #मुजफ्फरपुर, #जहानाबाद, #पटना, #नालंदा, #अररिया, #अरवल, #औरंगाबाद, #कटिहार, #किशनगंज, #कैमूर, #खगड़िया, #गया, #गोपालगंज, #जमुई, #जहानाबाद, #नवादा, #पश्चिम चंपारण, #पूर्णिया, #पूर्वी चंपारण, #बक्सर, #बांका, #बेगूसराय, #भागलपुर, #भोजपुर, #मधुबनी, #मधेपुरा, #मुंगेर, #रोहतास, #लखीसराय, #वैशाली, #शिवहर, #शेखपुरा, #समस्तीपुर, #सहरसा, #सारण #सीतामढ़ी, #सीवान, #सुपौल,

Post a Comment

0 Comments