---Third party advertisement---

दरभंगा-समस्तीपुर रेलखंड पर परिचालन बंद होने से बढ़ी लोगों की परेशानी, तय करनी पड़ रही लंबी दूरी।




दरभंगा-समस्तीपुर रेलखंड पर लगातार तीसरे दिन ट्रेनों का परिचालन बंद रहा. हायाघाट और थलवारा स्टेशनों के बीच बागमती नदी पर बने पुराने पुल पर पानी खतरे के निशान तक पहुंच गया है. वहीं, पानी लगातार बढ़ रहा है. मालूम हो कि बाढ़ की वजह से 31 अगस्त से पूर्व मध्य रेल ने इस रेलखंड पर ट्रेनों का परिचालन स्थगित कर दिया है. तीसरे दिन भी इस रेलखंड पर ट्रेनों का परिचालन नहीं हो रहा है. 

बड़ी आबादी को ट्रेन का सहारा

दरअसल, इस इलाके की बड़ी आबादी के लिए ट्रेनें ही आवागमन का सबसे बड़ा सहारा हैं. इनके बंद हो जाने की वजह से लोगों को जिला मुख्यालय लहेरियासराय की 7 किलोमीटर की दूरी 30 किलोमीटर चल कर तय करना पड़ रहा है. अगर कोई बीमार हो जाए तो उसे लेकर काफी दूर पैदल चलना पड़ता है.

स्थानीय रवि चौधरी ने बताया कि वे लोग फिलहाल बहुत मुसीबत में हैं. कुछ सूझ नहीं रहा है कि क्या करें. ट्रेन बंद हो जाने से काफी परेशानी हो रही है. उन्होंने कहा कि ट्रेनें ही यहां की बड़ी आबादी के लिए सबसे बड़ा सहारा थीं. अब अगर कोई इमरजेंसी काम हो या फिर कोई बीमार हो तो जिला मुख्यालय जाने के लिए पहले जो दूरी 7 किलोमीटर तय करनी पड़ती थी, अब वह बढ़कर 30 किलोमीटर हो गई है. उसमें भी कई किलोमीटर तक पैदल चलना पड़ता है.

रोजी-रोजगार की स्थिति खराब 

उन्होंने कहा कि पानी अब भी बढ़ रहा है, इसकी वजह से परिचालन दोबारा कब शुरू होगी यह कहना मुश्किल है. स्थानीय चौकीदार रामबली पासवान ने कहा कि ट्रेनों से ही लोग छोटा-मोटा व्यवसाय करते थे या मजदूरी करने जाते थे. ट्रेन बंद हो जाने की वजह से लोगों का रोजी-रोजगार मारा गया है. उन्होंने कहा कि पहले से ही कोरोना के कारण रोजी-रोजगार की स्थिति खराब है और ऊपर से ट्रेन के बंद हो जाने से अब सब कुछ ठप पड़ गया है.

रेलवे हर पल स्थिति पर रख रहा नजर

वहीं, दरभंगा रेलवे स्टेशन डायरेक्टर पुष्कर कुमार ने कहा कि दरभंगा-समस्तीपुर रेलखंड पर हायाघाट और थलवारा के बीच बागमती नदी पर बने पुल संख्या-16 पर पानी खतरनाक स्तर तक पहुंच गया है. इसकी वजह से इस रेलखंड के अप और डाउन रेल लाइन पर ट्रेनों का परिचालन स्थगित कर दिया गया है. 

उन्होंने कहा कि दरभंगा से होकर समस्तीपुर होते हुए भागलपुर और पटना जाने वाली पैसेंजर ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है. साथ ही लंबी दूरी की एक्सप्रेस ट्रेनों को सीतामढ़ी मुजफ्फरपुर होते हुए चलाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि कई ट्रेनों को सीमित कर दिया गया है. रेलवे हर पल स्थिति पर नजर रख रहा है और स्थिति सामान्य होने पर ट्रेनों का परिचालन बहाल कर दिया जाएगा.

ये खबरें भी पढ़ें

  • रेलवे ने रातों रात लिया बड़ा फैसला, आज से 8 जोड़ी स्पेशल ट्रेनों का परिचालन शुरू
  • Punjab, Ludhiana, Jalandhar, Amritsar, Patiala, Sangrur, Gurdaspur, Pathankot, Hoshiarpur, Tarn Taran, Firozpur, Fatehgarh Sahib, Faridkot, Moga, Bathinda, Rupnagar, Kapurthala, Badnala, Ambala,Uttar Pradesh, Agra, Bareilly, Banaras, Kashi, Lucknow, Moradabad, Kanpur, Varanasi, Gorakhpur, Bihar, Muzaffarpur, East Champaran, Kanpur, Darbhanga, Samastipur, Nalanda, Patna, Muzaffarpur, Jehanabad, Patna, Nalanda, Araria, Arwal, Aurangabad, Katihar, Kishanganj, Kaimur, Khagaria, Gaya, Gopalganj, Jamui, Jehanabad, Nawada, West Champaran, Purnia, East Champaran, Buxar, Banka, Begusarai, Bhagalpur, Bhojpur, Madhubani, Madhepura, Munger, Rohtas, Lakhisarai, Vaishali, Sheohar, Sheikhpura, Samastipur, Saharsa, Saran, Sitamarhi, Siwan, Supaul,Gujarat, Ahmedabad, Vadodara, Surat, Rajkot, Vadodara, Junagadh, Anand, Jamnagar, Gir Somnath, Mehsana, Kutch, Sabarkantha, Amreli, Kheda, Rajkot, Bhavnagar, Aravalli, Dahod, Banaskantha, Gandhinagar, Bhavnagar, Jamnagar, Valsad, Bharuch , Mahisagar, Patan, Gandhinagar, Navsari, Porbandar, Narmada, Surendranagar, Chhota Udaipur, Tapi, Morbi, Botad, Dang, Rajasthan, Jaipur, Alwar, Udaipur, Kota, Jodhpur, Jaisalmer, Sikar, Jhunjhunu, Sri Ganganagar, Barmer, Hanumangarh, Ajmer, Pali, Bharatpur, Bikaner, Churu, Chittorgarh, Rajsamand, Nagaur, Bhilwara, Tonk, Dausa, Dungarpur, Jhalawar, Banswara, Pratapgarh, Sirohi, Bundi, Baran, Sawai Madhopur, Karauli, Dholpur, Jalore,Haryana, Gurugram, Faridabad, Sonipat, Hisar, Ambala, Karnal, Panipat, Rohtak, Rewari, Panchkula, Kurukshetra, Yamunanagar, Sirsa, Mahendragarh, Bhiwani, Jhajjar, Palwal, Fatehabad, Kaithal, Jind, Nuh, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल, #बिहार, #मुजफ्फरपुर, #पूर्वी चंपारण, #कानपुर, #दरभंगा, #समस्तीपुर, #नालंदा, #पटना, #मुजफ्फरपुर, #जहानाबाद, #पटना, #नालंदा, #अररिया, #अरवल, #औरंगाबाद, #कटिहार, #किशनगंज, #कैमूर, #खगड़िया, #गया, #गोपालगंज, #जमुई, #जहानाबाद, #नवादा, #पश्चिम चंपारण, #पूर्णिया, #पूर्वी चंपारण, #बक्सर, #बांका, #बेगूसराय, #भागलपुर, #भोजपुर, #मधुबनी, #मधेपुरा, #मुंगेर, #रोहतास, #लखीसराय, #वैशाली, #शिवहर, #शेखपुरा, #समस्तीपुर, #सहरसा, #सारण #सीतामढ़ी, #सीवान, #सुपौल,

  • बढ़ती जा रही है महिलाओं दवारा प्राइवेट पार्ट में तंबाकू रखने की घटना, जानिए क्यों करती हैं ऐसा
  • रात को पत्नी ने कहा पांव में पायल चुभ रही है उतार दो, सुबह होते ही पति के उड़ गए होश
  • बिस्तर में जाने से पहले खाएं एक प्याज फिर देखें कमाल
  • Post a Comment

    0 Comments