---Third party advertisement---

बिहार देश का सबसे गरीब राज्य 50% से ज्यादा आबादी गरीब, देखिये कौन ज़िला सबसे गरीब और अमीर है



देश का पहला मल्टीडायमेंशनल पॉवर्टी इंडेक्स (बहुआयामी गरीबी सूचकांक-MPI) को नीति आयोग ने जारी कर दिया है. इस सूचकांक से आपको बिहार की गरीबी का अंदाजा हो जाएगा. दरअसल, बहुआयामी गरीबी सूचकांक के अनुसार, बिहार देश का सबसे गरीब राज्य है, जहां की 51.91% आबादी गरीब है.

गरीबी में झारखंड दूसरे नंबर पर

बहुआयामी गरीबी सूचकांक में बिहार के बाद दूसरे नंबर पर झारखंड है, इस राज्य में 42.16% आबादी गरीब है. इस सूंचकांक में तीसरे नंबर पर उत्तर प्रदेश है. यूपी में 37.79% आबादी गरीब है. जबकि चौथे नंबर पर मध्य प्रदेश है. यहां की 36.65% प्रतिशत आबादी गरीब है. केरल इस मामले में सबसे अच्छा है, जहां सिर्फ 0.71% लोग ही गरीब हैं.

सूचकांक में 700 से अधिक जिलों के जिलास्तरीय गरीबी का तीन क्षेत्रों स्वास्थ्य, शिक्षा व जीनवस्तर से जुड़े 12 सूचकांकों के आधार पर आकलन किया गया है. इनमें पोषण, शिशु-किशोर मृत्युदर, प्रसव पूर्व स्वास्थ्य सुविधा की उपलब्धता, पढ़ाई के वर्ष, स्कूल में उपस्थिति, सफाई, पेयजल, बिजली, घर, संपत्ति व बैंक खाते जैसे सूचकांक शामिल हैं.

ये ज़िला सबसे गरीब

किशन गंज इनमें से बिहार का सबसे गरीब जिला है. जबकि 11 जिले ऐसे हैं जहां गरीबी रेखा के नीचे जीवनयापन करने वालों की संख्या सबसे अधिक है. वहीं, बिहार की राजधानी पटना में सबसे अधिक अमीर हैं. पटना ज़िले में अमीरों की संख्या सबसे अधिक है. मुजफ्फरपुर, गया और भागलपुर भी ऐसे जिले हैं, जहां अमीरों की ठीक-ठाक संख्या है. इन्हे भी जरूर पढ़ें

Post a Comment

0 Comments