---Third party advertisement---

बिहार के मधुबनी-सुपौल के बीच कोसी नदी पर बन रहा देश का सबसे बड़ा 13 KM लंबा पुल, लागत 1101 करोड़


मधुबनी-सुपौल के बीच कोसी नदी पर बन रहा देश का सबसे बड़ा 13.3 KM लंबा पुल, लागत 1101 करोड़ : केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि बिहार में गंगा नदी पर 18 पुल बनाए जा रहे हैं। पटना में महात्मा गांधी सेतु पर निर्माण कार्य चल रहा है। सभी 18 पुलों का निर्माण पूरा हो जाने के बाद उत्तर प्रदेश, झारखंड समेत कई राज्यों को लाभ होगा। मंत्री ने बताया कि भागलपुर में निर्माणाधीन विक्रमशीला पुल के समानांतर पुल 2025 में चालू हो जाएगा। यह पुल उत्तर बिहार और दक्षिण बिहार को जोड़ेगा।


कोसी पर दो लेन पुल
कोसी नदी पर दो लेन पुल एनएच 527ए पर मधुबनी के भेजा और सुपौल के बकौर के बीच करीब 13.3 किमी की लंबाई में 1101 करोड़ रुपये की लागत से, अगस्त 2023 में पूरा होगा. वहीं, कोसी नदी पर एनएच-106 पर फोरलेन फुलौत पुल बनेगा, इसके निर्माण एजेंसी का चयन हो गया है. इस फोरलेन पुल की लंबाई करीब 6.93 किलोमीटर होगी. साथ ही एप्रोच रोड के साथ इसकी लंबाई करीब 28.94 किमी होगी. इसके निर्माण पर करीब 1478.84 करोड़ की लागत का अनुमान है.DEMO PHOTO

बेगूसराय में गंगा पर पुल
राजेंद्र सेतु के समानांतर सिमरिया में रेल-सह-सड़क पुल का निर्माण 1491 करोड़ रुपये की लागत से 2016 में शुरू हुआ था. इसे अगले साल तक बनने की संभावना है. फोरलेन एप्रोच रोड सहित सिक्स लेन औंटा-सिमरिया पुल करीब 8.15 किमी की लंबाई में 1161 करोड़ रुपये की लागत से फरवरी, 2022 तक बनकर तैयार होगा. फोरलेन मटिहानी-सांभो पुल एप्रोच सहित करीब 22 किमी की लंबाई में करीब पांच हजार करोड़ रुपये की लागत से बनेगा. इसकी डीपीआर बन रही है. नये साल में निर्माण शुरू होने की संभावना है. इसका निर्माण 2024 में पूरा होने की संभावना है.

कटिहार में गंगा व बक्सर में कर्मनाशा पर पुल
बक्सर-चौसा के बीच ढाई किलोमीटर लंबे पुल का निर्माण 14 मई, 2018 में शुरू हुआ था इसे 2021 में बनने की संभावना है. बिहार और झारखंड को जोड़ने वाले छह किलोमीटर लंबे मनिहारी से साहेबगंज पुल के निर्माण पर 1900 करोड़ रुपए की लागत आएगी, जिसका टेंडर जारी किया गया है. इस पुल का निर्माण सितंबर, 2024 तक पूरा होने की संभावना है.

Post a Comment

0 Comments