---Third party advertisement---

बहन ने भाई को लिख डाली आधा किलोमीटर लंबी चिट्ठी, 5 किलोग्राम है वजन, हो गई थी बहन से यह भूल

पहले के दौर में लोग एक-दूसरे को चिट्ठियां लिखकर हाल-चाल लिया करते थे. खत देने के बाद कई दिनों तक चिट्ठी के जवाब का इंतजार करना पड़ता था. आज जमाना अलग हो चुका है. जैसे ही किसी की याद आती है, इंसान फोन लगाकर बात कर लेता है. ऐसे में अगर कोई किसी को लंबी-चौड़ी चिट्ठी लिखे, तो आश्चर्य होना लाजमी है.



केरल (Kerala) के इद्दुकी में रहने वाली कृष्णाप्रिया ने अपने 21 साल के भाई कृष्णप्रसाद के लिए चिट्ठी लिखी है. ये चिट्ठी इतनी लंबी है कि वर्ल्ड रिकॉर्ड (World Record) बन गया. ये चिट्ठी कृष्णाप्रिया ने अपने भाई को तब लिखी थी, जब वो उसे ब्रदर्स डे पर विश करना भूल गई. अपनी बात रखने के लिए बहन ने इतनी लंबी चिट्ठी लिखी कि ये विश्व रिकॉर्ड में दर्ज हो गई.

क्यों लिखी ये लंबी-चौड़ी चिट्ठी

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो पेशे से इंजीनियर कृष्णाप्रिया (krishnapriya) ने अपने 21 साल के भाई कृष्णप्रसाद के लिए चिट्ठी लिखी. इस साल वर्ल्ड ब्रदर्स डे के मौके पर कृष्णाप्रिया अपने भाई के साथ नहीं थीं और वे उन्हें विश करना भी भूल गईं. इसके बाद जब भाई ने उन्हें मैसेज किया तो घंटों तक वे मैसेज देख भी नहीं पाईं. ऐसे में भाई ने कृष्णा को याद दिलाने के लिए कुछ स्क्रीन शॉट्स भी भेजे. जब इस पर भी उनकी ओर से कोई जवाब नहीं आया तो उनके भाई ने उन्हें व्हाट्सऐप पर ब्लॉक कर दिया. जब भाई ने उनसे बात करनी बंद कर दी तो कृष्णा ने चिट्ठी के जरिये अपनी बात रखी , जो वर्ल्ड रिकॉर्ड बन गई.

पांच किलोग्राम की है यह चिट्ठी

चिट्ठी को कृष्णाप्रिया ने 25 मई से लिखना शुरू कर दिया. उन्हें सामान्य पेपर पर लिखना शुरू किया था, लेकिन जब उनकी बातें खत्म नहीं हो रही थीं, तो उन्होंने दुकान से 15 पेपर रोल खरीदे. हर रोल को वे 12 घंटे में खत्म कर रही थीं. आखिरकार ये चिट्ठियां आपस में जोड़ना मुश्किल काम था. किसी तरह जब वे इसे जोड़कर पोस्ट ऑफिस पहुंचीं तो इसका वजन 5.27 किलो और लंबाई 434 मीटर (करीब आधा किलोमीटर) निकली. पार्सल में चिट्ठी देखने के बाद भाई कृष्ण प्रसाद दंग रह गया. उसने जब कोलकाता के यूनिवर्सल रिकॉर्ड फोरम (universal record forum) को लेटर भेजा, तो इसके रिकॉर्ड बनने की पुष्टि हुई.

Post a Comment

0 Comments