---Third party advertisement---

सांगली जिले में एक ही परिवार के 9 सदस्यों ने की सामूहिक आत्महत्या, जहर खाकर दी जान

 महाराष्ट्र के सांगली जिले के महिसल में एक ही परिवार के 9 सदस्यों ने सामूहिक आत्महत्या कर ली। परिवार के सभी लोगों ने जहर खाकर अपनी जिंदगी समाप्त कर दी। घर में छह शव घर में मिले हैं जबकि तीन शव दूसरे घर से मिले हैं। पुलिस ने संदेह व्यक्त किया है कि कर्ज के चलते परिवार ने सामूहिक आत्महत्या की है। 



आत्महत्या करने वालों में पोपट यल्लप्पा वनमोर (उम्र 52), संगीता पोपट वनमोर (48), अर्चना पोपट वनमोर (30), शुभम पोपट वनमोर (28), माणिक यल्लप्पा वनमोर (49), रेखा माणिक वनमोर (45), आदित्य माणिक वन (15), अनीता माणिक वनमोर (28) और अक्कताई वनमोर (72) शामिल हैं। 

महिसल में नरवाड़ रोड के पास अंबिका नगर चौक पर डॉ. वनमोर अपने परिवार के साथ मौजूद थे। परिवार का एक घर अंबिकानगर में और दूसरा राजधानी कॉर्नर में है। सोमवार सुबह से ही दोनों घरों के दरवाजे नहीं खुले थे। पड़ोसियों ने दरवाजा खोला तो पता चला कि एक ही घर में छह लोगों ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली। तीनों के शव बाद में दूसरे घर में मिले। पता चला कि एक ही परिवार के नौ सदस्यों ने जहरीली दवा खाकर खुदकुशी कर ली है।

जिला पुलिस अधीक्षक दीक्षित कुमार गेदाम, पुलिस उपाधीक्षक अशोक वीरकर और अपर पुलिस अधीक्षक मनीषा दुबुले सहित मिराजगांव पुलिस की एक टीम ने मौके का दौरा किया।

Post a Comment

0 Comments