---Third party advertisement---

60 साल की उम्र होते ही खुद शुरू हो जाएगी पेंशन, कही जाने की जरूरत नहीं

 



नई दिल्ली: हरियाणा सरकार ने एक सराहनीय कदम उठाया है जिसके तहत 60 साल का होने पर बुजुर्गों की पेंशन खुद ब खुद ही शुरू हो जाएगी। इसके लिए उन्हें न तो कोई फॉर्म भरना होगा और न ही किसी कार्यालय के चक्कर लगाने होंगे। नए नियम के तहत सम्मान भत्ता योजना के तहत पात्र व्यक्ति को अपनी पात्रता निर्धारित करने के लिए परिवार पहचान संख्या की आवश्यकता होगी। सोमवार को खट्टर सरकार के मंत्रिमंडल की बैठक में वृद्धावस्था सम्मान भत्ता योजना की प्रक्रिया में बदलाव करने का निर्णय हो गया है। सरकार ने 31 मार्च 2022 को पायलट आधार पर यह योजना शुरू की थी। परिवार पहचान पत्र पोर्टल के माध्यम से वृद्धावस्था सम्मान भत्ता के लिए आवेदन करने की पूरी प्रक्रिया को 25 अप्रैल 2022 को रोक दिया गया था। सरकार ने हरियाणा परिवार पहचान प्राधिकरण वृद्धावस्था सम्मान भत्ते के लिए एक सूची तैयार करने को कहा है।

सूचि में ऐसे व्यक्ति को शामिल किया जाएगा जिसकी उम्र 60 वर्ष से अधिक और पति-पत्नी, दोनों की मिलाकर आय दो लाख से अधिक ना हो। साथ ही पिछले 15 वर्षों से वे हरियाणा के निवासी हो।


हरियाणा परिवार पहचान प्राधिकरण द्वारा व्यक्ति की आय उसकी आय की स्थिति, निवास प्रमाण और बैंक खाते के विवरण की जानकारी के बाद हरियाणा सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के अधिकारी के सत्यापन की आवश्यकता नहीं होगी। इसके साथ ही बुजुर्गों को पेंशन देने से पहले संबंधित जिला समाज कल्याण अधिकारी के कार्यालय या किसी भी अधिकृत सरकारी प्रतिनिधि के अधिकारी बुजुर्ग के घर जाकर उनसे ये जानकारी हासिल करेंगे कि वे पहले से तो पेंशन प्राप्त कर रहे है या नहीं। यदि संबंधित अधिकारी पेंशन की स्वीकृति के लिए हां कर देता है इसके बाद ही बुजुर्गों को पेंशन दी जाएगी।

Post a Comment

0 Comments